उत्तराखण्ड में थमा लोकसभा चुनाव का प्रचार, प्रदेश की पांच सीटों पर 55 प्रत्याशियों के बीच होगी जंग

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार बुधवार शाम पांच बजते ही थम गया है। अब 19 को होने वाले मतदान को लेकर कर्मचारियों की रवानगी तेज हो गई है, दूसरे दिन 703 पोलिंग पार्टियां मतदान कराने के लिए रवाना हुईं। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय जोगदंडे ने बुधवार को प्रेस ब्रीफिंग में बताया कि शाम पांच बजे से उत्तराखंड में साइलेंट पीरियड शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा कि इस दौरान एक्जिट पोल और ओपीनियन पोल पर रोक रहेगी। जोगदंडे ने बताया कि शुक्रवार 19 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए, पोलिंग पार्टियों की रवानगी तेज हो गई है। बुधवार को पौड़ी की 181, अल्मोड़ा की 136 और देहरादून की 122 पोलिंग पार्टियां सहित कुल 703 पोलिंग पार्टियां अपने गंतव्य के लिए रवाना हुई।

यह भी पढ़ें -   स्व. डॉ इंदिरा की तृतीय पुण्यतिथि पर अर्पित की भावपूर्ण श्रद्धांजलि, उनके कामों को किया याद

इस तरह अब तक 715 पोलिंग पार्टियां रवाना हो चुकी हैं, शेष पोलिंग पार्टियां गुरुवार को रवाना होंगी। उन्होंने बताया कि मतदान कराने के लिए सुरक्षा बलों के अतिरिक्त 55 हजार कर्मचारी तैनात किए गए हैं। चुनाव के मद्देनजर बुधवार शाम पांच बजे के बाद शुक्रवार शाम छह बजे तक प्रदेश में शराब की सभी दुकानें भी बंद रहेंगी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगदंडे ने बताया कि प्रदेश में 283 शेडो मतदान केंद्र है। यहां संचार सुविधा उपलब्ध नहीं होने के कारण संचार की विशेष व्यवस्था की गई है, इसमें चार मतदान केंद्र ऐसे हैं जहां किसी भी तरह की संचार सुविधा नहीं है।

यह भी पढ़ें -   कुमाऊंः मामूली विवाद में झगड़ा बड़ा, पति ने पीट-पीटकर पत्नी को उतारा मौत के घाट

जबकि 7209 केंद्रों पर वेबकास्टिंग के जरिए मतदान प्रक्रिया पर सीधी नजर रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिन बीएलओ की ड्यूटी अपने मतदान केंद्र से बाहर लगी है, उनके लिए फार्म 12 ए से मतदान की व्यवस्था है। शेष भी मतदान कर्मियों के लिए पोस्टल बैलेट का प्रबंध किया गया है।

इधर, मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम ने बताया कि सी विजिल एप पर आचार संहिता उल्लंघन की 22 हजार से अधिक शिकायतें आई हैं। जिनका समयबद्ध तरीके से निस्तारण किया गया, उन्होंने बताया कि उत्तराखंड सी विजिल से शिकायत के मामले में देश में तीसरे स्थान पर रहा है।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस बार चुनाव प्रचार पूरी तरह से शांति पूर्वक रहा है, उन्होंने लोगों से अधिक से अधिक संख्या में मतदान की अपील की है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440