मंहगाई व भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस का राजभवन कूच, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दी गिरफ्तारी

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। मंहगाई व भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ शुक्रवार को राजभवन कूच किया। पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को हाथीबड़कला में बैरिकेडिंग लगाकर आगे जाने से रोक दिया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा की अगुवाई में कांग्रेसी यहीं धरने पर बैठ गए। इस दौरान कई कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी भी दी। राजपुर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय से पार्टी नेता व कार्यकर्ता राजभवन के लिए निकले। हाथीबड़कला बैरिकेडिंग पर भारी पुलिस बल ने कांग्रेस नेताओं को आगे नहीं जाने दिया, यहां पर पुलिस और कांग्रेस नेताओं की जमकर झड़प हुई। कई कांग्रसी बैरिकेडिंग पर चढ़ गए। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने मोदी सरकार के विरोध में प्रर्दशन कर नारेबाजी की।

प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाए कि केंद्र की मोदी सरकार कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी व राहुल गांधी पर बदले की भावना से कार्य कर रही है। 2010 में ईडी ने अपनी कार्रवाई बंद कर दी थी। लेकिन मोदी सरकार ने जबरन कार्रवाई दोबारा शुरू करवा दी। जो निदनीय है। इस दौरान माहरा ने कहा कि कहा कि सरकार ने दूध, दही व आटे पर जीएसटी लगा दिया है। बेरोजगारी बढ़ती जा रही है और महंगाई आसमान छू रही है।सरकार की ओर से अग्निपथ योजना के जरिये युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा है। उन्होंने देश में बढ़ती महंगाई व बेरोजगारी के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया। बेतहाशा बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी तथा आवश्यक खाद्य पदार्थों पर लगाई गई जी.एस.टी. और अव्यवहारिक अग्निपथ योजना के विरोध में उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आहवान पर आज प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा के नेतृत्व में भारी विरोध-प्रदर्शन के साथ राजभवन का घेराव किया तथा राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री संगठन विजय सारस्वत ने बताया कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत कांग्रेसजन सैकडों की संख्या में प्रदेश मुख्यालय राजीव भवन में एकत्र हुए जहां से कांग्रेसजनों ने प्रदेश अध्यक्ष श्री करन माहरा के नेतृत्व में मार्च निकालते हुए राजभवन की ओर कूच किया। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत ने किया। घेराव के उपरान्त पुलिस द्वारा प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा सहित कांग्रेसजनों को गिरफ्तार कर पुलिस लाईन ले जाया गया।

महामहिम राज्यपाल के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को सौंपे ज्ञापन में कंाग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार अपने 8 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण कर चुकी है। देश में प्रचण्ड बहुमत वाली भाजपा सरकार ने जनता के विश्वास पर चोट करते हुए अपने इस कार्यकाल में पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस सिलेण्डर एवं खाद्य पदार्थों के दामों में भारी वृद्धि की है। आज मंहगाई अपने चरम पर है तथा आम आदमी का जीना दूभर हो चुका है। पेट्रोलियम पदार्थों (डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस) के दामों में लगातार हो रही वृद्धि से आम जरूरत की चीजों के दामों में कई-कई गुना वृद्धि के कारण आम जन पीड़ित है। पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि के कारण खाद्य्य पदार्थों सहित सभी चीजों के दामों में स्वाभाविक रूप से वृद्धि होनी निश्चित है। विशेषकर खाद्य्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों में वृद्धि के कारण आम आदमी को दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। मंहगाई की मार से पीड़ित जनता के ऊपर रसोई गैस सिलेण्डर के दाम 1000 रूपये पार कर चुके हैं। मंहगाई में लगातार हो रही वृद्धि से केन्द्र की मोदी सरकार ने एकबार फिर साबित कर दिया है कि यह सरकार आम जनता की न होकर कुछ सरमायेदारों की सरकार है।
कांग्रेसजनों ने कहा कि पहले से मंहगाई की मार झेल रही गरीब जनता की रोजमर्रा की जरूरतों की चीजों पर भी अब केन्द्र सरकार द्वारा जी.एस.टी. लगाकर उसके पेट पर लात मारने का काम किया जा रहा है। केन्द्र की भाजपा सरकार मंहगाई पर लगाम लगाने में पूरी तरह नाकाम हो चुकी है तथा मंहगाई के नाम पर जनता की जेब पर डाका डालने का काम कर रही है। प्रतिदिन बढती मंहगाई अब आम आदमी की बर्दास्तगी से बाहर होती जा रही है। चुनावों में बड़े-बड़े वादे करने वाले प्रधानमंत्री मोदी तथा उनके सहयोगी देश की गरीब जनता का मजाक उड़ा रहे हैं। केन्द्र में सत्तारूढ़ होने के बाद से ही भारतीय जनता पार्टी की सरकार कुछ बड़े घरानों को पल्लवित-पोषित कर रही है। भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार को आम जनता के दुःख दर्द से दूर-दूर तक कोई सरोकार नहीं है। भारतीय जनता पार्टी और स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चुनावों के समय देश की जनता से मंहगाई पर नियंत्रण करते हुये आम आदमी को राहत देने का वायदा करते हैं परन्तु आज मंहगाई घटने के बजाय दिन-दूनी रात चौगुनी वृद्धि कर रही है। वर्ष 2019 के मुकाबले पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस तथा खाद्य पदार्थों की के दामों में 50 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई है तथा अकेले रसोई गैस सिलेण्डर के दामों में 115 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
बढती बेरोजगारी के मामले में कांग्रेस ने कहा कि देश का बेरोजगार नौजवान इस बात से आशान्वित था कि उन्होंने केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की प्रचण्ड बहुमत वाली सरकार बनाई है तो यह सरकार उनके बेरोजगारी के मुद्दे का हल निकाल कर देश के बेरोजगार नौजवानों को रोजगार मुहैया करायेगी उल्टे केन्द्र सरकार की नीतियों के कारण लोगों का रोजगार छिनता जा रहा है। पिछले कार्यकाल में केन्द्र की भाजपा नीत सरकार ने दो करोड़ लोगों को प्रतिवर्ष रोजगार देने का सपना दिखाया था लेकिन सरकार के आंकडों के मुताबिक उसके पूरे पांच वर्ष के कार्यकाल में मात्र 10 लाख लोगों को ही आधा-अधूरा रोजगार मिल पाया और अब देश में बेरोजगारों की फौज खडी हो चुकी है। भ्रष्टाचार मुक्त भारत का सपना दिखाने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सत्ता के पहले कार्यकाल में भ्रष्टाचार की मजबूत इमारत खड़ी करते हुए अपने प्रिय उद्योगपतियों को भारतीय स्टेट बैंक के माध्यम से विदेशों में व्यापार करने के लिए गलत तरीके से 10 हजार करोड़ रूपये का दीर्घकालिक ऋण देकर भारत के बेरोजगार नौजवानों के हितों पर चोट पहुंचाने का काम किया। आज विश्व के मुकाबले भारत में बेरोजगारी की दर सबसे अधिक 29 प्रतिशत तक पहुंच गई है।
राज्य की भाजपा सरकार पर भी आरोप लगाते हुए कंाग्रेस ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य की जनता ने जिस आशा और विश्वास के साथ भाजपा को भारी बहुमत के साथ डबल इंजन का तोहफा दिया था आज उत्तराखण्ड में डबल इंजन की सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी हैै। राज्य सरकार नौजवानों को रोजगार मुहैया कराकर पलायन को रोकने में भी असफल साबित हुई है। राज्य के हजारों उद्योग या तो बन्द हो चुके हैं या बन्दी की कगार पर हैं तथा उनमें कार्य करने वाले हजारों नौजवान बेरोजगार हो रहे हैं। जहां एक ओर उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से वीपीडीओ एवं अन्य पदों के लिए हुई भर्ती परीक्षा में 15-15 लाख रूपये लेकर पेपर लीक कर नौकरियां बेचने का मामला सामने आया है वहीं राज्य के सहकारिता विभाग में भर्ती के नाम पर अपनों को रेवडी बांट कर भ्रष्टाचार को अंजाम दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें -   मोटापा, कान की समस्या, उल्टी आदि समस्याओं को भी दूर करता है अगरु या अगर वृक्ष

कांग्रेस पार्टी ने अग्निपथ योजना को भी नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड बताते हुए कहा कि विवादास्पद, अव्यवहारिक और जल्दबाजी में तैयार की गई अग्निपथ योजना, जिसमें कई जोखिम हैं, ने न केवल सशस्त्र बलों की लंबे समय से चली आ रही परंपराओं और लोकाचार को नष्ट कर दिया है, बल्कि लाखों बेरोजगार युवाओं की आकांक्षाओं को भी नष्ट कर दिया है। केन्द्र सरकार की अग्निपथ योजना सशस्त्र बलों की लम्बे समय से चली आ रही परम्पराओं को नष्ट करने तथा उनके मनोबल को तोडने की कार्रवाई तो है ही देश की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड है। अग्निपथा योजना में भर्ती देश का नौजवान चार साल की सेना में सेवा के बाद खालीहाथ अपने घर लौटेगा। बताते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार द्वारा अग्निपथ योजना की घोषणा के शीघ्र बाद उत्तराखण्ड सहित पूरे देश में व्यापक स्तर पर विरोध हो रहा है तथा सशस्त्र बलों में भर्ती हो कर देश की सेवा का सपना देख रहे देश के युवा बेरोजगार नौजवानों में भारी आक्रोश है। कांग्रेसजनों ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक जिम्मेदार राजनैतिक दल होने के कारण चुप्पी नहीं साध सकती है तथा जनता के हर दुःख दर्द से अपने आपको सम्बद्ध करते हुए महामहिम राष्ट्रपति से आग्रह करती है कि केन्द्र सरकार को इन सभी बिन्दुओं पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिये जांय।

यह भी पढ़ें -   उल्टी करने के दौरान महाराष्ट्र की महिला यात्री खाई में गिरी, मौत

राजभवन घेराव में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, उपनेता प्रतिपक्ष भुवन कापडी, विधायक राजेन्द्र भण्डारी, आदेश चौहान, विक्रम सिंह नेगी, फुरकान अहमद, गोपाल राणा, रवि बहादुर, विरेन्द्र जाति, पूर्व मंत्री नवप्रभात, दिनेश अग्रवाल, मनोज रावत, राजकुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रशासन संगठन मथुरादत्त जोशी, प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, मीडिया प्रदेश कोषाध्यक्ष आर्येन्द्र शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, पूर्व मंत्री अजय सिंह, पैनलिस्ट राजीव महर्षि, संजय पालीवाल, महामंत्री डॉ0 जसविन्दर सिंह गोगी, राजेन्द्र शाह, नवीन जोशी, हरिकृष्ण भट्ट, गोदावरी थापली, अनुपम शर्मा, याकूब सिद्धिकी, गरिमा दसौनी, महन्त विनय सारस्वत, जयेन्द्र रमोला, महेन्द्र राणा, प्रदीप थपलियाल, मनीष नागपाल, पी.के. अग्रवाल, राजेन्द्र भण्डारी, मोहन भण्डारी, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, अश्विनी बहुगुणा, राजेन्द्र राणा, विनोद नेगी, कलीम खान, संजय अग्रवाल, प्रदेश सचिव शांति रावत, राजेश चमोली, जगदीश धीमान, धर्म सिंह पंवार, प्रणीता बडोनी, सुशील राठी, कै0 बलवीर रावत, लक्ष्मी अग्रवाल, रीता पुष्पवाण, महेन्द्र नेगी, नजमा खान, मनमोहन मल्ल, कोमल बोहरा, शशि सेमवाल, अनूप कपूर, दीप बोहरा, संदीप चमोली, राकेश नेगी, मनीष शर्मा, कपिल भाटिया, उर्मिला थापा, अमरजीत सिंह, सुशील राठी, नजमा खान, प्रदीप जोशी, नवनीत सती, विजयपाल रावत, नवीन रमोला, विशाल मौर्य, रितेश क्षेत्री, आशीश सैनी, शैलेन्द्र करगेती, रॉबिन त्यागी, विकास नेगी, देवेश उनियाल, भगवान सिंह पंवार, गम्भीर सिंह रावत, आयुश सेमवाल, सुमित खन्ना, राहुल प्रताप, शुभम चौहान, पिंटू मौर्य, शिवम ध्यानी, अभिमन्यु डंगवाल, जगदेव सिंह शेखों, मोहन काला, शिवा वर्मा, राव अफाक, भूपेन्द्र नेगी, दानिश कुरैशी, प्रदीप मन्दरवाल, आदि सैकडों कांग्रेसजन शामिल थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.