सरकार उत्तराखण्ड में 25 मई से कोविड कर्फ्यू में दे सकती है कुछ रियायत

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। उत्तराखण्ड में अगर कोरोना संक्रमण की गति इसी तरह कम होती रही तो फिर सरकार राज्य में 25 मई से कोविड कर्फ्यू में कुछ रियायत दे सकती है। जिसमें बाजार खुलने का समय, दुकानों को अलग-अलग दिन खोलने व अंतर जिला परिवहन व्यवस्था शुरू करना शामिल हो सकता है। सूत्रों के अनुसार सरकार दुकानें खोलने का समय बढ़ाने, किराना व अन्य दुकानों को अलग-अलग दिन खोलने व बंद करने पर विचार कर रही है। इसके साथ ही 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ यात्री वाहनों का अंतर जिला संचालन किया जा सकता है। शासकीय प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि 14 मई के बाद कोरोना के मामले घटे हैं। उम्मीद है कि स्थिति जल्द बेहतर होगी। मामले यदि इसी तरह से घटते रहे तो सरकार कुछ रियायत देने पर विचार कर सकती है।
आपको बता दें कि राज्य में अप्रैल के दूसरे सप्ताह के बाद कोरोना संक्रमण की रफ्तार में तेजी आ गयी थी। संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने पहले रात्रि कर्फ्यू और फिर 24 अप्रैल से सख्ती करते हुए दिन में भी कोविड कर्फ्यू लागू किया। संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए इसमें इसमें हर सप्ताह सख्ती बढ़ाई गई। इसका असर भी देखने को मिला। कोरोना संक्रमितों के मामलों में कमी देखने को मिली। 14 मई के बाद संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं। रोजाना संक्रमण के मामलों की जो संख्या एक बार नौ हजार से ज्यादा पहुंच गई थी, गत दिवस वह चार हजार से नीचे आ गई।
गत दिवस 3658 व्यक्ति संक्रमित पाए गए, जबकि 8006 व्यक्ति संक्रमणमुक्त हुए। एक दिन में ठीक होने वाले मरीजों के लिहाज से यह संख्या अभी तक सबसे अधिक है। इससे रिकवरी प्रतिशत भी बढ़कर अब 73.87 तक पहुंच गया है। सरकार संक्रमण के इस आंकड़े पर लगातार नजर रख रही है। यही कारण है कि अब सरकार कर्फ्यू में ढील देने पर विचार कर रही है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.