बुजुर्ग की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, पुत्री ने लगाया हत्या का आरोप

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। एक बुजुर्ग की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उन्हें अस्पताल ले जाय गया। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। पुत्रियों ने दो लोगों पर जमीन कब्जाने को लेकर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जानकारी के अनुसार ऊंचापुल निवासी 65 वर्षीय हंसा दत्त जोशी पुत्र चूणामणि जोशी अपने घर में अकेले रहते थे। उनकी पत्नी का कुछ समय पूर्व निधन हो चुका है। उनकी दो पुत्रियां प्राची व सौम्या हैं। बड़ी पुत्री प्राची दिल्ली में मल्टीनेशनल कंपनी में काम करती है। लेकिन लॉकडाउन के बाद से वह हल्द्वानी में रह रही है। इन दिनों दोनों मुखानी स्थित श्याम अपार्टमेंट में अपने ताऊ नारायण दत्त जोशी के साथ रह रही थी। प्राची ने बताया कि बीती रात उनके पड़ोसी का उन्हें फोन आया कि उनके पिता घायलावस्था में बाथरूम में पड़े हुए हैं। जिन्हें उपचार के लिए बेस चिकित्सालय ले जाया जा रहा है। अस्पताल में हंसा दत्त जोशी को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की बेटी का आरोप है कि उसके पिता की ऊंचापुल में 38 बीघा जमीन है और कुछ लोग उसके पिता की जमीन को कब्जा करना चाहते हैं। उन्हीं लोगों ने उसके पिता की हत्या की गई है।

यह भी पढ़ें -   नेशनल कराटे अकेडमी इंडिया की कोच रेनू बोरा ने जीता स्वर्ण पदक

बेटी का यह भी कहना है कि 38 बीघा भूमि पर कुछ लोगों द्वारा कब्जा कर उसमें निर्माण कार्य किया जा रहा था। यह मामला कोर्ट में विचाराधीन था। चार दिन पूर्व उन्हें कोर्ट से स्टे भी मिल गया था। उसने यह भी बताया कि भूमि विवाद के चलते उसके पिता को लंबे समय से जान माल का खतरा बना हुआ था। इस मामले की शिकायत अप्रैल माह में एसएसपी, नैनीताल से भी की गई थी।
सीओ शांतनु पाराशर का कहना है कि मामले की गहनता से छानबीन की जा रही है। प्रत्येक बिन्दु को ध्यान में रखकर जांच आगे बढ़ाई जा रही है। पुलिस ने मृतक के घर को भी सील कर दिया है। पुलिस फॉरेंसिक एक्सपर्ट के साथ घटनास्थल का जायजा लेगी और साक्ष्य जुटाएगी। उन्होंने बताया कि मामले में अभी तक किसी प्रकार की तहरीर नहीं मिली है। तहरीर आने पर मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *