राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी ने मासूम व परिजनों के चेहरे पर बिखेरी मुस्कान, चिकित्सकों की मेहनत से बची 3 वर्षीय बच्चे की जान

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। राजकीय मेडिकल कॉलेज, हल्द्वानी के ई0एन0टी0 विभाग व चिकित्सकीय टीम की मेहनत ने मासूम व परिजनों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी है। चिकित्सकों की मेहनत से बच्चे की जान बच गयी व बच्चा स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गया है।

ई0एन0टी0 विभाग के विभागाध्यक्ष डा0 शहजाद अहमद ने बताया कि गरूड़ बागेश्वर निवासी 3 वर्षीय बच्चे कक्षित ने महिलाओं द्वारा पैर में पहनने वाली बिछिया निगल ली थी, जिसे परिजन विगत दिवस 22 मार्च शाम को डा0 सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय के आपातकालीन विभाग में लेकर आये। बच्चे का एक्सरे करवाया, जिससे पता चला कि बिछिया खाने की नली के बीच में फंस गयी है। एनेस्थिीसिया विभाग की मदद से बच्चे को बेहोश करके डा0 शहजाद अहमद ने मशीन से बिछिया को निकाला। बच्चे के ठीक हो जाने पर आज 23 मार्च को बच्चे को डिस्चार्ज कर दिया गया।

यह भी पढ़ें -   पूरी नींद न ले पाना या कम नींद से हो सकती हैं इतनी समस्याएं! जानकर आपको भी होगी हैरानी

ई0एन0टी0 विभाग के विभागाध्यक्ष डा0 शहजाद अहमद, ई0एन0टी0 विभाग की टीम, व एनेस्थिीसिया विभाग की डा0 प्रियंका चौरसिया व नर्सिग स्टाफ की मेहनत ने बच्चे व परिजनों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी।

यह भी पढ़ें -   पुलिस के हत्थे चढ़ा 4 ग्राम स्मैक के साथ नशे का सौदागर

डा0 अरूण जोशी प्राचार्य राजकीय मेडिकल ने बच्चे के स्वस्थ व डिस्चार्ज होने पर ई0एन0टी0 विभाग के विभागाध्यक्ष डा0 शहजाद अहमद व चिकित्सकीय टीम को बधाई देते हुए कहा कि डाक्टरों की मेहनत बच्चे के लिए नयी जिंदगी लेकर आयी। प्राचार्य डा0 जोशी ने आशा जताई कि चिकित्सक इसी तरह सेवा में जुटे रहेगे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.