हनुमान जी को बूंदी के लड्डुओं का भोग ही क्यों लगाया जाता है ?

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। कोई भी देवी-देवता बस प्रेम-भाव के भूखे होते हैं। उसी तरह हनुमान जी भी भाव के ही भूखे हैं। अगर आपके अंदर भाव नहीं है, तो कुछ भी नहीं है। आप बेसक भगवान का लाख करो गुणगान, अगर भाव नहीं तो कुछ भी नहीं है। लेकिन इसके साथ ही क्या आपको पता है कि हनुमान जी को मंगलवार के दिन महंगे मिठाई नहीं बल्कि मीठी बूंदी का ही भोग क्यों लगाया जाता है। आपने भी भक्तों को मंगलवार के दिन हाथों में बूंदी का प्रसाद मंदिरों में ले जाते हुये अक्सर देखा होगा। भोग लगाने के बाद मीठी बूंदी का प्रसाद सभी को बांटते भी हैं। आपने कभी इस बात पर गौर किया है, कि हनुमान जी को यही प्रसाद क्यों चढ़ाया जाता है। जब आप इसकी वजह जानेंगे, तो वजह जानकर हैरान हो जाएंगे। भगवान शिव के 12 रूद्र अवतार को उनके जन्मदिन यानि इसी मंगलवार को मीठी बूंदी का भोग लगाये जिससे होंगे चमत्कारिक फायदे।

यह भी पढ़ें -   कमरे में मिला संदिग्ध परिस्थितियों में पंतनगर एयरपोर्ट कर्मचारी का शव, महिला की वेशभूषा धारण किए हुए था मृतक

हनुमान जी को महंगे मिठाई नहीं बल्कि मीठी बूंदी पसंद
दूध को चंद्रमा का कारक माना गया है. चंद्रमा और मंगल दोनों एक दूसरे के विरोधी होते है, इसलिए हनुमान जी को मंगलवार के दिन बूंदी और बूंदी से बने लड्डू का भोग लगाया जाता है। दूध से बनी मिठाई से हनुमान का भोग लगाने से हनुमान जी नाराज हो जाते हैं। हनुमान जी को बेसन के लड्डू, मालपुआ, इमरती का भोग भी लगाया जाता है। हनुमान जी को बूंदी का भोग लगाकर सभी ग्रहों को आसानी से नियंत्रण में रख सकते है। जो ग्रह आप पर भारी पड़ रहे हैं उसे भी आसानी से शांत कर सकते है।

हनुमान जी को चुटकी में खुश करने का फार्मूला
मंगलवार के दिन हनुमान जी की विशेष आराधना की जाए तो जीवन से शनिदोष तो उतरता ही है राहु और केतु ग्रह भी शांत हो जाते हैं। जीवन से हर कष्ट और मुश्किलों से बाहर निकलने में हनुमान जी भक्तों की मदद करते है। ऐसे में हनुमान जी को चुटकी में खुश करने का फार्मूला जानेंगे। हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए क्या करें। यूं तो कलियुग सबसे प्रभावशाली देवता के रुप में जाने और पूजे जाते हैं। कहा गया है कि भक्त सच्ची भक्ति से हनुमान जी को याद करे तो साक्षात दर्शन देते है। जहां भी भगवान राम की पूजा स्तूति होती है या फिर रामायण का पाठ होता है वहां पर राम भक्त हनुमान किसी न किसी रूप में अवश्य पहुंचते जाते हैं। भगवान श्री राम के पास पहुंचने का आसान मार्ग हनुमान जी ही हैं। इस बार हनुमान जी के जन्मदिन पर बनाइए उनका मनपसंद भोजन बूंदी के लड्डू, जिससे वो खुश हो जायें और आर्शिवाद दें।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440