वोट डालने जाते समय मोबाइल फोन घर छोड़कर जाएं, नहीं तो होगी परेशानी

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। लोकसभा चुनाव में जब आप अपना कीमती वोट डालने जाएं तो मोबाइल, कैमरा, ईयरफोन आदि उपकरणों को घर छोड़कर जाएं। मतदान केंद्र के भीतर इन्हें ले जाने पर पाबंदी है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम ने बताया, अपने मतदान केंद्र की जानकारी वोटर हेल्पलाइन नंबर 1950 पर कॉल, वोटर हेल्पलाइन एप या वेबसाइट voters.eci.gov.in के माध्यम से पता कर सकते हैं।

बताया, अगर आपका वोटर लिस्ट में नाम है, लेकिन आपके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है तो आप 12 अन्य दस्तावेज की मदद से भी वोट डाल सकते हैं। अगर वोट डालने पर आपको वीवीपैट में मतदान पर्ची न दिखे या बीप की तेज आवाज सुनाई न दे तो पीठासीन अधिकारी से संपर्क करें। वीवीपैट के शीशे में पर्ची सात सेकेंड के लिए दिखाई देगी। मुद्रित पर्ची वीवीपैट में सुरक्षित रख ली जाती है।

यह भी पढ़ें -   देश भारत विश्व के अन्य देशों का योग के क्षेत्र में नेतृत्व कर रहा है: अजय भट्ट

मतदान केंद्र में आईडी के साथ मतदान कक्ष तक पहुंचें। अगर लाइन लगी है तो उसमें खड़े हो जाएं। इसके बाद मतदान अधिकारी मतदाता सूची में आपके नाम और आपकी आईडी प्रूफ की जांच करता है। इसके बाद मतदान अधिकारी आपकी अंगुली के नाखून पर अमिट स्याही से निशान लगाता है, पर्ची देता है और आपके हस्ताक्षर लेता है। इसके बाद तृतीय मतदान अधिकारी बैलेट यूनिट को चालू करेगा। बैलेट यूनिट की रेडी लाइट जल उठेगी। इसके बाद आप अपना वोट डालने के लिए अपने प्रत्याशी के सामने का नीला बटन दबाएं फिर चुने गए प्रत्याशी के नाम के सामने की लाल बत्ती जल उठेगी। इसके साथ ही वीवीपैट मशीन में चुने गए प्रत्याशी की क्रम संख्या, नाम, प्रतीक चिह्न के उल्लेख वाली मतदान पर्ची मुद्रित व प्रदर्शित होगी। कंट्रोल यूनिट से आई बीप की तेज आवाज इस बात की पुष्टि करेगी कि आपका वोट सफलतापूर्वक डल गया है।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440