महानगर कांग्रेस ने की पुलिस महानिदेशक से मुलाकात, नशे के अवैध करोबार पर रोक लगाने की मांग

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। देहरादून महानगर कांग्रेस के पदाधिकारियों के एक प्रतिनिधिमण्डल ने महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के नेतृत्व में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक से उनके कार्यालय में मुलाकात कर देहरादून महानगर में विभिन्न क्षेत्रों में चल रहे नशे के अवैध करोबार पर रोक लगाये जाने तथा वार्ड नं0 32 की कांग्रेस पार्षद श्रीमती कोमल बोरा के साथ हुए अभद्र व्यवहार की शिकायत पर कानूनी कार्रवाये जाने की मांग की।

पुलिस महानिदेशक को सौंपे पत्र में लालचन्द शर्मा ने कहा कि देहरादून महानगर के विभिन्न क्षेत्रों जिनमें पटेलनगर, मेहूवाला, राजीव नगर, डालनवाला, बिन्दाल बस्ती, मित्रलोक कॉलोनी, जवाहर कॉलोनी, निम्बूवाला डीडी कॉलेज के पास, चोरखाला व डाकरा हवा घर के पास, पूरण बस्ती भाग दो, आर्य नगर आदि क्षेत्रों में विगत काफी लम्बे समय से नशीले पदार्थों के कारोबार को खुलेआम चलाया जा रहा है वहीं पंजाब में नशे के खिलाफ बरती जा रही सख्ती के उपरान्त नशे के कारोबारियों द्वारा उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून में अपने कारोबार बढाने की घटनायें गम्भीर चिन्ता का विषय हैं। नशीले पदार्थों के इन कारोबारियों द्वारा स्थानीय पुलिस की मिली भगत से उत्तराखण्ड की राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों में अपना मकडजाल बिछाया जा रहा है जो कि आने वाले समय में उत्तराखण्ड के युवाओं को नशे की ओर धकेलने का काम करेगा। उन्होंने कहा कि देहरादून शहर एजुकेशनल हब के रूप में जाना जाता है तथा यहां पर कई शिक्षण संस्थान हैं जहां पर बाहरी राज्यों के भी छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। उपरोक्त स्थानों में हो रही नशे के कारोबार की शिकायत आम जनता द्वारा कई बार की गई परन्तु कार्रवाई नहीं हो पा रही है। देहरादून महानगर के उपरोक्त इलाकों में पुलिस की मदद से हो रहे अवैध नशे के कारोबार के कारण आये दिन झगडे फसाद एवं आपराधिक घटनाओं के कारण आम जनता दहशत में है।

यह भी पढ़ें -   पहाड़ों पर कार सीखना पड़ा भारी, चारो दोस्तो समेत कार गिरी खाई में

महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा ने यह भी अवगत कराया कि गढ़ी चौक से शिव मूर्ति तिराहे तक अवैध सब्जी की ठेलियां सडकों पर लगाई जा रही हैं जिससे पूरे दिन जाम की स्थिति बनी हुई है। साथ ही मसंदावाला व जैन्तनवाला में रात्रि के समय हो रहे अवैध खनन के कारोबार से दुर्घटनाओं का भय बना रहता है जिसकी रोकथाम आवश्यक है। उन्होंने देहरादून महानगर के विभिन्न संवेदनशील क्षेत्रों में अवैध नशे के खिलाफ विशेष अभियान चलाने जाने तथा यातायात सुधारे जाने की मांग की। उन्होंने कहा कि यदि महानगर में लगाये गये सभी सीसी टीवी कैमरे एक्टिव हों तथा कन्ट्रोलिंग कंट्रोल रूम में हो तो महानगर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधरने के साथ ही अपराधों पर भी नियंत्रण किया जा सकता है।

पुलिस महानिदेशक को सौंपे एक अन्य पत्र में महानगर कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने कहा कि 14.7.22 को नगर निगम द्वारा चलाये गये अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान महानगर के वार्ड नम्बर 32, बल्लूपुर के कौलागढ़ रोड पर होटल चटनी मैरी के सामने कॉम्प्लेक्स स्वामी द्वारा नगर निगम के नाले को पाट कर कराये गये सी.सी. निर्माण करा दिया गया था। इसका विरोध करते हुए स्थानीय पार्षद कोमल वोहरा ने शिकायती पत्र के माध्यम से मा. मेयर नगर निमगम देहरादून, श्रीमान आयुक्त नगर निगम देहरादून, स्वास्थ्य अधिकारी देहरादून को अवगत करा दिया गया कि कॉम्प्लेक्स स्वामी द्वारा सरकारी बरसाती नाले को पाट कर अपनी निजी पार्किंग बनवाया गया है। बरसाती नाले पर पक्का निर्माण होने की वजह से बारसात का पानी दुकानो में जा रहा है। नगर निगम द्वारा अतिक्रमण हटाया गया तो कॉम्प्लेक्स स्वामी द्वारा नगर निगम अधिकारीगणों को सरेआम धमकियाँ दीगई तथा महिला पार्षद को भी सरे आम गाली गलौच करके जानसे मारने की धमकी दी गई। यही नहीं कॉम्प्लेक्स स्वामी द्वारा कमर्शियल प्रॉपर्टी होने के बावजूद अपने कॉम्पलेक्स की पानी की लाइन व सीवरेज की लाइन डोमेस्टिक से ली गई है जो कि गैर कानूनी है। इसकी भी शिकायत जल संस्थान से की गई है। महिला पार्षद तथा उनके पति दीप वोहरा को जानसे मारने की धमकी दी गई जिसकी तहरिर बिंदाल चौकी प्रभारी को दे दी गई परन्तु काफभ् समय बीतने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है।
प्रतिनिधिमण्डल में महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के अलावा पूर्व विधायक राजकुमार, आनन्द त्यागी, अनुराग गुप्ता, मीना रावत, कोमल बोहरा, संगीता गुप्ता, अमृता कौशल, प्रवेश त्यागी, सुनील बांगा एवं रीता रानी शामिल थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.