श्रावण माह: धतूरे का फूल चढ़ाने से होती है सुयोग्य पुत्र की प्राप्ति, समस्या के हिसाब से शिवजी को चढाएं फूल,…

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। सावन का महीना शुरू हो चुका है जो 26 अगस्त तक रहेगा। इसका हिंदू धर्म में विशेष महत्व माना गया है। ऐसी मान्यता है कि इस महीने में भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामना पूरी होती है। भगवान शिव को खुश करने के लिए लोग कई तरह के उयाय करते हैं । इस महीने में कुछ खास उपाय करने से आपका भाग्योदय हो सकता है शिवपुराण के अनुसार शिव जी को हरसिंगार के पुष्प चढ़ाने से धर में सुख-संपत्ति आती है वहीं धतूरे के फूल चढ़ाने से भगवान शंकर सुयोग्य पुत्र प्रदान करते हैं। इसी तरह समस्याओं के हिसाब से भगवान को पुष्प चढ़ाने से आपको इससे छुटकारा मिल सकता है।

  • लाल व सफेद आंकड़े के फूल चढ़ाने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।
  • चमेली के फूल चढ़ाने से वाहन सुख मिलता है।
  • शमी के पत्ते चढ़ाने से मोक्ष प्राप्त होता है।
  • बेला के फूल चढ़ाने से सुंदर व सुशील पत्नी मिलती है।
  • जूही के फूल चढ़ाने से घर में अन्न की कमी नहीं होती।
  • हरसिंगार के फूल चढ़ाने से सुख-संपत्ति में वृद्धि होती है।
  • धतूरे के फूल चढ़ाने से भगवान शंकर सुयोग्य पुत्र प्रदान करते हैं।
  • दूर्वा से भगवान शिव की पूजा करने पर उम्र बढ़ती है।
    शिव जी को क्यों प्रिय है सावन का महीना
  • मान्यताओं के अनुसार माता सती ने अपने जीवन को त्याग कर कई वर्षों तक श्रापित जीवन जीया।
  • उसके बाद उनका जन्म हिमालय राज के घर माता पार्वती के रूप में हुआ।
  • माता पार्वती ने शिवजी को पति रूप में पाने के लिए सावन महीने में कठोर तपस्या की थी इससे खुश होकर शिवजी ने उनकी मनोकामना पूरी की।
  • माता सती को पार्वती जी के रूप में फिर से पाकर भगवान शिव प्रसन्न हुए। तभी से श्रावण का यह महीना प्रिय माना जाता है।
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440