नवरात्रि में बनेगा ग्रहों का खास योग, देवी का वाहन घोड़ा होने से मिलेंगे शुभ फल

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। चैत्र नवरात्रि के दौरान ही मंगल और बुध ग्रहों का राशि परिवर्तन भी होगा। ज्योतिषियों के अनुसार, ये शुभ संयोग है। इस बार देवी घोड़े पर सवार होकर आएगी। ये शुभ संकेत है। मां दुर्गा को सुख-समृद्धि और ऐश्वर्य की देवी कहा गया है। इसलिए नौ दिन मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। जो हर मनोकामना पूरी करने वाले और हर तरह के दोष खत्म होने वाले होते हैं। आगे जानिए चैत्र नवरात्रि से जुड़ी खास बातें।

चैत्र नवरात्रि में ऐसी रहेगी ग्रहों की स्थिति
चैत्र नवरात्रि में मकर राशि में शनि देव, मंगल के साथ रहेंगे, जो पराक्रम में वृद्धि करेंगे। रवि पुष्य नक्षत्र के साथ सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग नवरात्रि को स्वयं सिद्ध बनाएंगे। शनिवार से नवरात्रि का प्रारंभ शनिदेव का स्वयं की राशि मकर में मंगल के साथ रहना निश्चित ही सिद्धि कारक है। इससे कार्य में सफलता, मनोकामना की पूर्ति, साधना में सिद्धि मिलेगी। चैत्र नवरात्रि के दौरान कुंभ राशि में गुरु, शुक्र के साथ रहेगा। मीन में सूर्य, बुध के साथ, मेष में चंद्रमा, वृषभ में राहु, वृश्चिक में केतु विराजमान रहेंगे।

यह भी पढ़ें -   व्हीट ग्रास में काफी मात्रा में मैग्नीशियम, क्लोरोफिल, कैल्शियम, आयोडीन, सेलेनियम, जिंक, आयरन, फाइवर, विटमिन के, विटमिन बी, सी और ई जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं

घोड़े पर सवार होकर आएंगी देवी भैंसे पर जाएंगी
ज्योतिषियों के अनुसार, नवरात्रि में मां दुर्गा अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर आती हैं और विदाई के समय भी वाहन अलग होता है। इस बार नवरात्रि शनिवार से शुरू होगी, जिसके चलते देवी दुर्गा के आगमन का वाहन घोड़ा रहेगा और अंतिम दिन रविवार होने से जाने का वाहन भैंसा होगा। देवी के दोनों वाहन देश में विवाद, तनाव, दुर्घटनाएं और प्राकृतिक आपदाओं की ओर संकेत कर रहे हैं। इसलिए देवी आराधना से अशुभ फल में कमी आ सकती है।

यह भी पढ़ें -   द लेडी किलर की शूटिंग के लिए नैनीताल पहुंचे अर्जुन कपूर व भूमि पेडनेकर

10 अप्रैल को मनाई जाएगी श्रीराम नवमी
धर्म ग्रंथों के अनुसार चौत्र नवरात्रि के अंतिम यानी नवमी तिथि पर भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव मनाया जाता है। मान्यता है कि त्रेतायुग में इसी तिथि पर भगवान विष्णु ने अयोध्या के राजा दशरथ के यहां श्रीराम के रूप में अवतार लिया था। इस दिन प्रमुख राम मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ेगी व अन्य आयोजन भी किए जाएंगे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.