यूक्रेन में फंसी नैनीताल जिले के हल्द्वानी की छात्रा सृष्टि गुप्ता, माता- पिता बोले- बेटी से हुई बात तो कहा वहां हालात खराब हैं

खबर शेयर करें

Russia Ukraine War: समाचार सच, हल्द्वानी। यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद वहां के हालात बेहद चिंताजनक हो गए हैं। यूक्रेन में पढ़ रहे भारतीय मूल के छात्र-छात्राओं के सामने यूक्रेन से वापस लौटने का संकट मंडरा रहा है। भारतीय मूल के कई विद्यार्थी वहां पर अब भी फंसे हुए हैं। इन्हीं में से उत्तराखण्ड के नैनीताल जिले हल्द्वानी की एक छात्रा सृष्टि गुप्ता भी हैं। जो गुरुवार तड़के रूस ने बमबारी कर दी और फिर यूक्रेन ने आपातकाल लागू कर दिया। सृष्टि वहीं फंसकर रह गयी है, जिससे हल्द्वानी में उसका परिवार बेहद परेशान है।

यूक्रेन में फंसी हल्द्वानी की सृष्टि गुप्ता के माता-पिता ने लगायी भारत सरकार से गुहार
नैनीताल जिले की हल्द्वानी छड़ायल में रहने वाले डा0 संजय गुप्ता और डॉ0 रीना गुप्ता की बेटी सृष्टि गुप्ता यूक्रेन के कीव में एमबीबीएस की सेकंड ईयर की पढ़ाई कर रही है। लेकिन जब से रूस और यूक्रेन के बीच विवाद बढ़ा है, उससे मेडिकल के छात्रा सृष्टि के माता पिता की चिंता बढ़ती जा रही है। वह बेहद परेशान हैं कि उनकी बेटी वहां फंस गयी है क्योंकि वहां फ्लाइट भी वहां बंद है। हालांकि फोन पर बात तो हो रही है। लेकिन अपने बच्चों के भविष्य को लेकर अब चिंतित दिखाई दे रहे हैं। यूक्रेन में रह रही छात्रा सृष्टि गुप्ता के पिता का कहना है कि वे परेशान हैं। वहां कर्फ्यू जैसे हालात हैं। यूनिवर्सिटी में बच्चों को बंद कर दिया है और बाहर निकलने पर रोक लगा दी है। फिलहाल उसके पास खाने-पीने का तो इंतजाम है फिर भी सरकार को कुछ करना चाहिए। वहीं छात्रा सृष्टि की मां बहुत ज्यादा परेशान हैं। उनकी बात फोन पर तो हो रही है लेकिन अब भविष्य को लेकर वे परेशान हैं। परिजनों का कहना हैं कि उन्हें लग रहा था कि संयुक्त राष्ट्र संघ जितनी महान शक्तियां हैं, वह किसी ना किसी तरह से रूस पर प्रेशर बना लेंगे, लेकिन संयुक्त राष्ट्र भी फेल हो गया और यह सब शक्तियां फेल हो गई। आज मेरी बच्ची ही नहीं भारत के और भी बच्चें बहुत प्रॉब्लम में है। मैंने अपनी बेटी का टिकट भी बुक करा दिया लेकिन एयर इंडिया की कोई फ्लाइट ही नहीं पहुंच रही। एयर इंडिया ने अपनी उड़ान वापस ले ली है, अब कुल मिलाकर पूरी तरीके से वहां यूक्रेन में फंस गयी है और वह यूनिवर्सिटी के हॉस्टल के अंदर हैं। मेरी आज सुबह बातचीत हुई है, उसने बताया है कि वहां के हालात बहुत खराब है। परिजनों ने प्रधानमंत्री से मांग है कि जल्दी से जल्दी बच्चों को लाया जाए। आपको बता दें कि सृष्टि के पिता हल्द्वानी बनभूलपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य सेंटर में अधिकारी है और उसकी मां आयुर्वेद चिकित्सक हैं।

यह भी पढ़ें -   पूरी नींद न ले पाना या कम नींद से हो सकती हैं इतनी समस्याएं! जानकर आपको भी होगी हैरानी

समाचार सच न्यूज पोर्टल एवं चैनल के संवाददाता द्वारा यूक्रेन में फंसी सृष्टि से वीडिया कॉलिंग के जरिए हुई बात की रिकार्डिंग, देखिए सृष्टि ने वहां के हालात की क्या जानकारी दी….

यह भी पढ़ें -   घर के बाहर खड़ी बाईक पर चोरों ने किया हाथ साफ

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.