प्रदेश प्रवक्ता दीपक ने ईजा-बैणी महोत्सव के आयोजन पर उठाए सवाल, कहा-सरकारी मशीनरी और सरकारी खजाने का पूरी तरह से हुआ दुरुपयोग

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने गुरुवार को हल्द्वानी में हुए ईजा-बैणी महोत्सव के आयोजन पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने इस आयोजन को जनता के धन की बर्बादी करार दिया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पूरी आयोजन के दौरान पूरी सरकारी मशीनरी ने भाजपा कार्यकर्ता की तरह व्यवहार किया। उन्होंने मुख्यमंत्री पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने यह कार्यक्रम स्वयं को महिमामंडित करने के लिए किया। इसमें सरकारी मशीनरी और सरकारी खजाने का पूरी तरह से दुरुपयोग हुआ है। कहा कि जरूरत पड़ी को इस मामले को लेकर हाईकोर्ट का भी रुख करेंगे।

शुक्रवार को अपने कैंप कार्यालय में पत्रकारों से मुखातिब प्रदेश प्रवक्ता दीपक ने आयोजन पर कई सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि इन दिनों स्कूलों में परीक्षाएं चल रही हैं। आयोजन के लिए स्कूलों में जबरन छुट्टी कर दी गई। निजी स्कूलों की आठ सौ बसों और तमाम अन्य वाहनों पर कब्जा कर आयोजन के लिए अधिग्रहण कर लिया गया। नगर निगम की पर्ची पर पूर्ति विभाग ने इन वाहनों के लिए तेल खरीदा। पूरे शहर को होर्डिंग और बैनरों से पाट दिया गया। उन्होंने सरकारी मशीनरी के रवैये पर भी सवाल उठाए कि आयोजन के तैयारी से लेकर समापन तक प्रशासनिक और विभागीय अधिकारी भाजपा कार्यकर्ता की भूमिका में नजर आए। उन्होंने सरकारी कार्मिकों के इस रवैये पर पार्टी ज्वाइन करने की नसीहत भी दे डाली। उन्होंने यह भी आरोप लगाए कि आयोजन के दौरान लंच पैकेटों की भी जमकर बर्बादी हुई। जहां-तहां कचरे के ढेर लगे थे। इतना ही नहीं, हैड़ाखान रोड पर सैकड़ों लंच पैकेट फेंके हुए थे। प्रतीत हो रहा था कि लंच पैकेट के अंदर जो खाद्य सामग्री रखी थी वह कई दिनों की बासी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने
आयोजन के दौरान सभी सड़कों पर नाकाबंदी कर दी थी। आयोजन स्थल के आसपास की सड़कों पर यातायात ठप कर दिया था। इस दौरान इलाज के लिए जा रहे, नौकरी पर निकल रहे और जरूरी काम के लिए घरों से निकले लोग घण्टों जाम में फंसे रहे। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार
निवेश के मामले में जनता को गुमराह कर रही है। अब तक जिन हजारों करोड़ के विदेशी निवेश का ढिंढोरा पीटा जा रहा है, वह कानूनी रूप से वैध नहीं हैं। सरकार या फिर किसी सरकारी एजेंसी का किसी कंपनी से एमओयू साइन ही नहीं हुआ है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440