हल्द्वानी में संदिग्ध अवस्था में खून से लथपथ मिला प्रॉपर्टी डीलर का शव, हत्या की आशंका, जानिए क्या है पूरा मामला…

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। महानगर हल्द्वानी के मुखानी थाना क्षेत्र लालडांट के पास एक खेत में गुरूवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गयी जब खून से लथपथ एक युवक का शव स्थानीय लोगों ने देखा। लोगों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को दी। सूचना पर पहुंची मुखानी थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवाया। मृतक की पहचान 34 वर्षीय कुणाल सिंह बिष्ट उर्फ (सोन्डा) पुत्र नवल किशोर बिष्ट निवासी लाल डाठरोड संजय कॉलोनी सावित्री स्कूल के निकट मल्ली बमोरी के रूप में हुई। मृतक प्रॉपर्टी डीलर था और बीती रात्रि बुधवार को अपने दोस्त के साथ घर से निकला था। इधर पुलिस की जांच में मालूम हुआ है कि युवक पर कुछ मुकदमें भी दर्ज हैं। पुलिस इस दिशा में भी जांच कर रही है।

गुरुवार कि सुबह करीब 9 बजे लालडाठ रोड सावित्री स्कूल के निकट मल्ली बमौरी कुणाल सिंह बिष्ट उर्फ (सोन्डा) डाठरोड संजय कॉलोनी सावित्री स्कूल के निकट मल्ली बमोरी स्थित शंकर दत्त पांडे के खाली पड़े खेत में पड़ा देख सनसनी फैल गयी। जिसकी सूचना स्थानीय लोगों ने थाना मुखानी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंचे एसपी सिटी हरबंश सिंह, हल्द्वानी कोतवाल हरेन्द्र चौधरी, मुखानी थाना प्रभारी दीपक सिंह बिष्ट तथा बनभूलपुरा थाना प्रभारी नीरज भाकुनी ने पुलिस टीम के साथ जांच पड़ताल शुरू कर दी। बताया जाता है कि मृतक को करीब रात 8 बजे वहीं क्षेत्र में घूमता देखा गया। जबकि उसकी मां श्रीमती कमला बिष्ट का कहना है कि रात करीब 9.30 बजे कुणाल को उसके दोस्त नवल किशोर तथा राकेश रौतेला उर्फ राका निवासी मल्ली बमोरी घर से बुलाकर अपने साथ ले गये थे। गुरूवार की सुबह मां को बेटे की हत्या के बारे में जानकारी मिली।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी

घटना स्थल पर पहुंची डॉगस्कॉट व फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम ने जांच पड़ताल कर मौके से खून के सैंपल लिये। मौके से टीम को एक सोडे की बोतल व एक कोल्ड ड्रिंक की कैन भी मिली है। इधर पुलिस को पूछताछ के दौरान मालूम हुआ है कि मृतक कुणाल शराब व स्मैक पीने का आदि था। साथ ही लालडंाट क्षेत्र में उसका काफी दबदबा था और उसके खिलाफ करीब डेढ़ वर्ष पूर्व हल्द्वानी कोतवाली में धारा 307 आईपीसी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है, जिसमें उसने अपने साथी के साथ मिलकर रोडवेज में एक पान की दुकान स्वामी के ऊपर तमंचे से फायर किया था।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में नशीलें इंजेक्शनों का कारोबार धड़ल्ले से, 50 इंजेक्शनों के साथ युवक दबोचा

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर जांच पड़ताल में लग गयी है। बताया जाता है कि राकेश रौतेला मृतक का करीबी दोस्त था लेकिन सुबह से करीब 2 बजे तक घटनास्थल उसे देखने नहीं पहुंचा, जिस पर पुलिस का शक राकेश पर गहरा रहा है। पुलिस उसकी तलाश में लग हुई है।

जानकारी के अनुसार मृतक कुणाल का छोटा भाई मनीष बिष्ट अपने पत्नी और बच्चों के साथ दमुवाढूंगा में रहता हैं। उसकी दो बहनें हैं जिनका विवाह हो चुका है। मनीष ने बताया की कुणाल की शादी नहीं हुई है और वह माता-पिता के साथ रहता था। मनीष पहले एक पेंट की दुकान पर कार्य करता था। बाद में वह प्रॉपर्टी डीलर का कार्य करने लगा था। इधर मृतक के छोटा भाई मनीष का आरोप है कि उसके भाई की हत्या करने में चार से पांच लोग हो सकते हैं। फिलहाल एसपी सिटी हरबंश सिंह का कहना है कि पुलिस हर पहलुओं की बारीकी से जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.