टीकाकरण की रफ्तार अब तय समय में लक्ष्य प्राप्ति होने की उम्मीद जगा रही

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। उत्तराखंड में टीकाकरण की रफ्तार अब तय समय में लक्ष्य प्राप्त होने की उम्मीद जगा रही है। राज्य सरकार ने दिसंबर अंत तक शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। पांच सितंबर तक की बात करें तो प्रदेश में 87.3 फीसद व्यक्तियों को वैक्सीन की प्रथम खुराक लग चुकी है। हालांकि, द्वितीय खुराक लगवाने वालों की संख्या तुलनात्मक रूप से काफी कम है।
अब तक सिर्फ 28 फीसद व्यक्तियों को ही द्वितीय खुराक लग पाई है। इसकी एक वजह यह भी है कि कोविशील्ड लगवाने वालों को द्वितीय खुराक के लिए 84 दिन का इंतजार करना पड़ रहा है। प्रदेश में अब तक जो टीकाकरण हुआ है, उसमें 93 फीसद खुराक कोविशील्ड की लगाई गई हैं।
राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डा. कुलदीप सिंह मर्ताेलिया ने बताया कि बागेश्वर और रुद्रप्रयाग में सौ फीसद व्यक्तियों को प्रथम खुराक लग चुकी है। वहीं देहरादून, चमोली, चंपावत, पौड़ी गढ़वाल और उत्तरकाशी में यह आंकड़ा 90 फीसद से ऊपर है। टीकाकरण की रफ्तार सबसे धीमी ऊधमसिंह नगर में है। यहां 79.8 फीसद व्यक्तियों को ही प्रथम खुराक लग पाई है।
उन्होंने बताया कि राज्य में वैक्सीन की अब पर्याप्त उपलब्धता है। 12 लाख से अधिक खुराक अभी उपलब्ध हैं। जिन व्यक्तियों को प्रथम खुराक लगी है, उनमें अधिकांश नवंबर तक अपनी 84 दिन की अवधि पूरी कर लेंगे। ऐसे में दिसंबर अंत तक हर हाल में शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *