हल्द्वानी से 6 लाख की ठगी करने वाले तीन शातिर ठगों को किया दिल्ली से गिरफ्तार

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। महानगर हल्द्वानी से 6 लाख की ठगी करने वाले तीन शातिर ठगों को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है। तीनों के पास से ठगी गई डेढ़ लाख की रकम के अलावा प्रयुक्त लैपटॉप, मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, इंश्योरेंस कस्टमर डिटेल आदि उपकरण बरामद किए गए हैं। इधर गुरूवार को पुलिस ने ठगों को कार्रवाई के बाद जेल भेज दिया गया है।

आपकों बता दें कि बीती 8 जुलाई को देवलचौड़ बंदोबस्ती निवासी राहुल शर्मा पुत्र स्व. प्रीतम शर्मा ने पुलिस को तहरीर सौंप कर कहा कि उसके पिता ने 12 लाख की भारतीय एक्सा इंश्योरेंस पॉलिसी की अवधि जनवरी माह में पूरी होने पर कंपनी का मोबाइल नंबर गूगल में सर्च किया। जिस पर दीपक सिंह नामक सख्श ने आईआरडीए का अधिकारी बनकर हाई कॉस्टली चार्ज की मांग की। इस बीच कथित रूप से आईआरडीए डायरेक्टर टीएस नायक, राकेश लोखण्डे आदि ने भी दूरभाष पर अलग-अलग नंबरों से वार्ता की। इस बीच अप्रैल माह में उसके पिता का निधन हो गया तो राहुल ने स्वयं उक्त नंबरों पर वार्ता की। इसआधार पर राहुल ने ठगों के झांसे में आकर फैजल खान, रितेश कुमार, अंजूबी हल्द्वानी के बैंक खातों में 6 लाख रूपये जमा करवा दिये। लेकिन उसे पॉलिसी की राशि नहीं मिली। इस पर उसे ठगी का आभास हुआ और पुलिस की शरण में पहुंचा। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें -   मुख्य सचिव दिए डग्गामारी को रोकने के लिए विशेष प्रयास किए जाने के निर्देश

गुरूवार को यहां पुलिस बहुद्देशीय भवन में उक्त मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया कि उन नंबरों को आधार बनाया गया, जिन पर पीड़ित का संपर्क हुआ। नंबरों की लोकेशन के आधार पर पुलिस ने तीन ठगों को लक्ष्मी नगर दिल्ली मैट्रो स्टेशन के पास डी ब्लॉक स्थित बिल्डिंग में बताये गये कार्यालय में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को मौके से ठगी में प्रयुक्त लैपटॉप, 6 कीपेड मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, इंश्योरेंस कस्टमर डिटेल व ठगी की डेढ़ लाख की रकम भी बरामद हुई। ठगों ने पुलिस को अपने नाम मो. आदिल सिद्दीकी पुत्र रियासुद्दीन सिद्दीकी निवासी 146 अकबर लाईन ओखला जामिया नगर थाना साहिनबाग, सरफराज आलम पुत्र हबीब अहमद निवासी गली नंबर 12 भजनपुरा शाहदरा दिल्ली पूर्वी व फैजल खान पुत्र जाहिद खान निवासी अकबर लाईन, दक्षिण पूर्वी दिल्ली बताये हैं। जबकि इस मामले में फिरोज खान व आदर्श कुमार शुक्ला निवासी गांधीनगर दिल्ली को वांछित किया गया है। साथ ही जिन लोगों के बैंक खातों में पैसा स्थानान्तरित किया गया है, पुलिस उनकी भी जांच कर रही है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि ठगों के बारे में उत्तराखंड के अलावा उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा आदि स्थानों से भी जानकारी जुटाई जा रही है। खुलासे में एसपीसिटी डॉ जगदीश चन्द्र, सीओ शांतनु पाराशर भी मौजूद रहे। इधर एसएसपी ने सफलता प्राप्त करने वाली पुलिस टीम को एक हजार रूपये का ईनाम देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें -   बुजुर्ग की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, पुत्री ने लगाया हत्या का आरोप

सफलता प्राप्त करने वाली टीम:
एसआई संजीत राठौड़, एसओजी के हेड कांस्टेबल दीपक अरोरा, कांस्टेबल त्रिलोक सिंह, भानू प्रताप, सुंदर रौतेला

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *