उत्तराखण्ड में ट्रांसफर होने से परेशान सीनियर नर्सिंग अधिकारी ने की खुदकुशी, मिले सुसाइड नोट से खुला मामला

खबर शेयर करें

समाचार सच, श्रीनगर। उत्तराखण्ड के श्रीकोट गंगानाली में ट्रांसफर होने से परेशान एक सीनियर नर्सिंग अधिकारी ने आत्महत्या कर ली है। कमरे में चार पन्नों का सुसाइड नोट भी मिला है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

जानकारी के अनुसार मूल रूप से राजस्थान निवासी 46 वर्षीय धर्मेंद्र कुमार शर्मा सीनियर नर्सिंग ऑफिसर थे। वह हल्द्वानी राजकीय मेडिकल कॉलेज में तैनात थे और स्थानांतरण होने से मानसिक रूप से परेशान थे। श्रीनगर के श्रीकोट मंगानाली के नागराज मोहल्ले में किराये के मकान में रहते थे। आज सुबह करीब 10 बजे जब मेडिसन विभाग के ज्ञानेंद्र शर्मा और ऑर्थो ओटी विभाग के यातम चन्द्र ऑफिस जाने के लिए धर्मेंद्र के घर गए तो दरवाजा खटखटाया तो अंदर से कोई आवाज नहीं सुनाई दी। शक होने पर जानेंद्र और यातम ने श्रीकोट चौकी पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे का दरवाजा खोला, तो कमरे में धर्मेंद्र कुमार संदिग्ध परिस्थियों में मिले। आनन-फानन में 108 एंबुलेंस की मदद से धर्मेंद्र को बेस अस्पताल श्रीकोट ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें -   रामनगर में लोपिंग न करने डीएम ने जताई नाराजगी, विद्युत विभाग के अधिकारियों की लगी फटकार, आपदा प्रभावित क्षेत्रों का किया निरीक्षण

इधर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक होशियार सिंह पंखोली ने बताया कि सीनियर नर्सिंग ऑफिसर के कमरे में एक डायरी मिली है। जिसके अंदर चार कागजों का सुसाइड नोट मिला है। वह मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में तैनात थे और स्थानांतरण होने से मानसिक रूप से परेशान थे। उन्होंने बताया कि नोट में नर्सिंग ऑफिसर (मृतक) ने पांच लोगों के नाम भी अंकित किए हैं। परिजनों को इस संबंध में सूचना दे दी गई है। मृतक अपने पीछे अपनी पत्नी और दो बच्चों को छोड़ गए हैं। पुलिस बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440