vaccine

45 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को ही लगाई जा रही वैक्सीन

खबर शेयर करें

मीडिया कर्मियों को वैक्सीन लगाने के संबंध में केंद्र से जानकारी मांगी

समाचार सच, देहरादून। केंद्र सरकार के सख्त दिशा-निर्देशों के बाद प्रदेश में अब केवल 45 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को ही कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही है। प्रदेश में फिलहाल उन्हीं स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर को वैक्सीन लग रही है, जिनकी उम्र 45 वर्ष हो गई है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने मीडिया कर्मियों को वैक्सीन लगाने के संबंध में केंद्र से जानकारी मांगी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने गत तीन अप्रैल को सभी राज्यों को एक पत्र भेजकर कहा था कि ऐसी जानकारी सामने आई है कि वैक्सीनेशन सेंटर में स्वास्थ कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के रूप में अपात्र व्यक्तियों का भी पंजीयन कर वैक्सीनेशन किया जा रहा है। यह वैक्सीनेशन के लिए जारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन है। दरअसल, स्वास्थ कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के लिए पंजीकृत लाभार्थियों की संख्या में पिछले कुछ दिनों में 24 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई। जब पड़ताल हुई तो पता चला कि इनमें कई अपात्र हैं। इसे देखते हुए केंद्र सरकार ने इन दोनों ही वर्गों के नए पंजीयन तत्काल बंद कर दिए। यह भी कहा गया कि इनका उल्लंघन करने वालों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.