Women E Rickshaw Driver : हल्द्वानी महानगर की महिला ई-रिक्शा चालकों को कुमाऊं IG डॉ0 नीलेश आनन्द भरणें ने किया सम्मानित

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। अगर मन में दृढ़ इच्छा शक्ति हो तो हौसलों की उड़ान को कोई रोक नहीं सकता। यह बात महानगर हल्द्वानी में ई-रिक्शा चला रही महिलाओं पर सटीक बैठती है। हल्द्वानी की महिला ई-रिक्शा चालक अन्य महिलाओं के लिए भी प्रेरणा बन रही हैं। ई-रिक्शा चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण कर रही शहर की इन 10 महिलाओं को कुमाऊं परिक्षेत्र पुलिस महानिरीक्षक डॉ0 नीलेश आनन्द भरणें ने अपने हल्द्वानी कैम्प कार्यालय में सम्मानित किया। इस दौरान समाचार सच न्यूज पोर्टल एवं चैनल द्वारा आयोजित इस सूक्ष्म समोराह में आईजी डॉ0 भरणें ने उक्त महिलाओं को प्रशिस्ति पत्र और शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। (क्रमशः नीचे पढ़िए)

इस दौरान मुख्यअतिथि के रूप में कुमाऊं आईजी डॉ0 भरणें ने कहा कि अगर महिलाएं सशक्त और आत्मनिर्भर होंगी तो परिवार भी अधिक सम्पन्न और समृद्ध होंगे। इस दौरान ई-रिक्शा चालक महिलाओं ने भी खुशी जताते हुए कहा कि महिलाओं को घरों में कैद नहीं रहना चाहिए। वे भी काम कर आत्मनिर्भर बन सकती हैं। उनका कहना था कि महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं है। क्षेत्र कोई भी हो, महिलाओं ने हर क्षेत्र में खुद को साबित किया है। हल्द्वानी महानगर में 10 महिलाएं ई-रिक्शा चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण कर रही हैं और अन्य महिलाओं के लिए भी प्रेरणा बन रही हैं। इस दौरान उन्होंने ई-रिक्शा संचालिकाओं से उनकी समस्यायें भी सुनी और उन्हें निस्तारण करने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने कहा कि जल्द ही उक्त ई-रिक्शा चालक महिलाओं को यातायात नियम संबंधित एक कार्यशाला का आयोजन भी किया जायेगा। इस मौके पर आईजी ने इस तरह के आयोजनों के लिये समाचार सच की टीम की भूरि-भूरि प्रशंसा की। (क्रमशः नीचे पढ़िए)

यह भी पढ़ें -   अनियंत्रित होकर डंपर खाई में गिरा, चालक की दर्दनाक मौत

सम्मानित होने पर महिला ई-रिक्शा संचालिकाओं ने बताया कि कुमाऊं आईजी के द्वारा सम्मानित होने पर वे अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। इस दौरान ई-रिक्शा संचालिकाओं ने अन्य महिलाओं से भी आह्वान किया कि वे पूरी तरह आत्मनिर्भर बनें और अपने बच्चों की देखभाल के साथ साथ आजीविका के अन्य साधन भी अपनाएं। (क्रमशः नीचे पढ़िए)

इस मौके पर सम्पादक अजय चौहान एवं सह सम्पादक सुश्री नीरू भल्ला ने संयुक्त रूप से मुख्यअतिथि तथा सभी अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ई-रिक्शा चला कर इन महिलाओं ने अपने आत्मविश्वास और हौसलों को एक नया मुकाम दिया है। आज ये महिलायें समाज के लिये मिसाल बन गयी है और समाचार सच की पूरी टीम इन महिलाओं के जज्बे को सलाम करता है। (क्रमशः नीचे पढ़िए)

यह भी पढ़ें -   आखिरकार आदमखोर गुलदार पिंजरे में कैद, दो बच्चों को बनाया था निवाला

इस दौरान समाचार सच के पुलिस सम्मान में सिपाही दीवान को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिये भी सम्मान किया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से पूर्व प्रवक्ता एवं बीपीएल शिक्षा प्रयास समिति की संचालिका पार्वती किरौला, समाजसेविका दीप्ति खर्कवाल, समाचार सच के मुख्य संरक्षक गुरूबचन सिंह, संरक्षक एडवोकेट जीएस किरौला, संरक्षक एवं पूर्व बीडीसी मेम्बर अर्जुन सिंह बिष्ट, सहायक सम्पादक सुशील शर्मा, उत्तराखण्ड प्रभारी फरहत रऊफ, चन्द्रा चौहान, भारती पंत सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन समाचार सच के इवेंट मैनेजर मिथुन जायसवाल ने किया।
सम्मानित होने वाली ई-रिक्शा संचालिकायें:
सुनिता, मंजू देवी, गीता, कमलेश, गुड्डी, श्वेता, सोनिया, बीना, भावना और गीता देवी।

Women E Rickshaw Driver: Kumaon IG Dr. Nilesh Anand Bharan honored women e-rickshaw drivers of Haldwani metropolis

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440