यूपी एसटीएफ के एनकाउंटर में अतीक का बेटा असद ढेर, झांसी में शूटर गुलाम भी मारा गया

खबर शेयर करें

समाचार सच, झाँसी/नई दिल्ली (एजेन्सी)। अतीक अहमद के बेटे असद को यूपी एसटीएफ ने मार गिराया है। असद का एनकाउंटर यूपी एसटीएफ ने किया। झांसी के पास हुए इस एनकाउंटर में शूटर गुलाम भी मारा गया है। न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, यूपी एसटीएफ की टीम का नेतृत्व डिप्टी एसपी नवेंदु और डिप्टी एसी विमल कर रहे थे। दोनों के पास से पुलिस को विदेशी हथियार मिला है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, यूपी एसटीएफ ने पहले इन दोनों को चेतावनी दी लेकिन दोनों ने उनपर फायरिंग कर दी, इसके बाद जवाबी कार्रवाई में यूपी एसटीएफ ने इन दोनों को मार गिराया। यूपी एसटीएफ ने इस एनकाउंटर के बाद घटना स्थल से विदेशी हथियार बरामद किए है। बता दें कि अतीक अहमद के बेटे असद और शूटर गुलाम दोनों के ऊपर 5-5 लाख रुपये का इनाम था।

आपको बता दें कि जहां एक तरफ उमेश पाल हत्याकांड में अतीक अहमद और अशरफ को आज कोर्ट में पेश किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ यूपी पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई। यूपी एसटीएफ ने झांसी में अतीक अहमद के बेटे असद को ढेर कर दिया है। इसके साथ ही उमेश पाल की दिनदहाड़े हत्या करने वाला मोहम्मद गुलाम भी मारा गया है। यूपी एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश ने कहा कि असद और गुलाम को जिंदा पकड़ने की कोशिश की गई थी, लेकिन इन्होंने एसटीएफ की टीम पर फायर किया, उसके बाद एनकाउंटर में मार गिराया गया।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड में खूनी संघर्ष, मां और दो युवकों पर हमला, आरोपी की हल्द्वानी अस्पताल में मौत, ये है पूरा मामला…

इधर शूटर असद और गुलाम के मारे जाने पर उमेश पाल की पत्नी जया पाल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सराहना की और कहा कि न्याय दिलाने वाला सबसे बड़ा होता है, सीएम योगी मेरे पिता के समान हैं, आज उन्होंने न्याय दिलाया है। वहीं उमेश पाल की मां ने कहा कि जो भी आज पुलिस ने किया है, इसी तरह सरकार करती रहे, मेरे बेटे की आत्मा को शांति मिलेगी।

गौरतलब है कि 24 फरवरी को प्रयागराज में राजूपाल हत्याकांड में गवाह उमेश पाल की हत्या कर दी गई थी। उमेश पाल जब अपने घर जा रहे थे, तब गली के बाहर कार से निकलते वक्त उन पर शूटरों ने फायरिंग कर दी थी। इस दौरान बम भी फेंके गए थे। इस हमले में उमेश पाल और उनके दो सरकारी गनर्स की मौत हो गई थी। उमेश पाल की पत्नी ने इस मामले में अतीक, उसके भाई अशरफ समेत 9 लोगों पर मामला दर्ज कराया था। पुलिस इस मामले में शाइस्ता के साथ 5 शूटरों (अतीक अहमद का बेटा असद, अरमान, गुलाम, गुड्डू मुस्लिम और साबि) की तलाश में जुटी हुई थी। पुलिस को आज बड़ी कामयाबी हासिल हुई। पुलिस ने 47 दिन से फरार असद और गुलाम को मार गिराया है। इससे पहले खुलासा हुआ था कि माफिया अतीक अहमद की जिद पर असद को उमेश पाल हत्याकांड में शामिल किया गया था और उससे गोली चलवाई गई थी। असद का नाम और फुटेज सामने आने के बाद शाइस्ता ने अतीक़ अहमद से नाराज़गी जाहिर की थी। शाइस्ता ने अतीक़ अहमद को साबरमती जेल में फोन किया था।

यह भी पढ़ें -   इन तरीकों से स्टोर करें चने और छोलों को पास भी नहीं फटकेंगे कीड़े

फोन पर शाइस्ता ने रोते हुए कहा कि असद बच्चा है, उसे इस मामले में नहीं लाना चाहिए था। सूत्रों के मुताबिक, अतीक़ ने कहा कि असद की वजह से 18 साल बाद चैन की नींद सोया हूं, उमेश पाल के चलते मेरी नींद हराम हो गयी थी। शाइस्ता से अतीक ने फोन पर कहा था कि असद शेर का बेटा है, उसने शेरों वाला काम किया है।

उमेश पाल हत्याकांड को अंजाम देने के बाद पांचों शूटर फरार हो गए थे। असद और गुलाम, दिल्ली में जाकर छिपे थे। बीते दिनों ही असद को शरण देने के मामले में दिल्ली पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था। आर्म्स एक्ट से जुड़े मामले में पुलिस ने अवतार सिंह को गिरफ्तार किया था। अवतार ने खुलासा किया है कि उसने जीशान और खालिद को 10 हथियार सप्लाई किए थे।

पूछताछ के दौरान खालिद और जीशान ने बताया कि इन्होंने असद और गुलाम को दिल्ली में सीक्रेट ठिकाने पर शरण दी थी। इसके बाद पुलिस ने 31 मार्च को जावेद को गिरफ्तार किया। जावेद ने बताया कि उमेश पाल की हत्या के बाद असद और गुलाम उससे मिले थे। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने फिर से छापेमारी शुरू की और आज शूटर असद के साथ गुलाम को ढेर कर दिया।

Atiq’s son Asad killed in UP STF encounter, shooter Ghulam also killed in Jhansi

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440