Chandan powder

आयुर्वेद का पुराना नुस्खा है चंदन का तेल, इन तरीकों से निखारता है खूबसूरती

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। सदियों से खूबसूरती को बनाए रखने के लिए चंदन का उपयोग हो रहा है। चंदन का पाउडर ही नहीं इसका तेल भी हमें खूबसूरत बनाता है। यहां जानिए चंदन से जुड़ी वो बातें जो आजतक आपने शायद सुनी भी ना हों। हम लोगों के लिए चंदन का मतलब सिर्फ लाल चंदन और सफेद चंदन होता है। लेकिन आपको जानकर आश्चर्य हो सकता है कि दुनियाभर में 12 तरह का चंदन पाया जाता है। आयुर्वेद में चंदन के तेल और पाउडर का उपयोग सदियों से होता रहा है। यह सेहत और सुंदरता दोनों के लिए बहुत फायदेमंद है।

इस तरह सुंदरता बढ़ाता है चंदन
चंदन के पाउडर तेल और इसकी लकड़ी में ऐसे 125 कंपाउंड्स होते हैं, जो हमारी स्किन को खूबसूरत बनाने का काम करते हैं। ये हमारी स्किन के डैमेज सेल्स को रिपेयर करते हैं यानी त्वचा की कोशिकाओं को तंदरुस्त बनते हैं। यही वजह है कि चंदन का इस्तेमाल दुनिया के हर कोने में बननेवाले ब्यूटी प्रॉडक्ट्स में किया जाता है।

चंदन की खूबी है यह
चंदन प्राकृतिक तौर पर ठंडक प्रदान करनेवाला प्रॉडक्ट है। यही वजह है कि इसका लेप त्वचा पर लगाने से ना केवल त्वचा की जलन शांत होती है बल्कि इसकी खूशबू से मानसिक शांति भी मिलती है। इसलिए अगर आप अपने चेहरे पर चंदन का लेप या तेल लगाते हैं तो आपको आयदिन होनेवाले सिरदर्द से राहत मिलेगी।

यह भी पढ़ें -   गडकरी ब्रिगेड ने मनाया 75वां आजादी का अमृत महोत्सव

गुस्सा शांत करने में मददगार
जिन लोगों को गुस्सा अधिक आता है, उन्हें चंदन का टीका लगाने की सलाह दी जाती है। क्योंकि हमारी बॉडी में उपस्थित 7 चक्रों में से एक और बहुत पॉवरफुल चक्र हमारी दोनों आइब्रोज के बीच में स्थित होता है। यानी वह जगह जहां हम टीका लगाते हैं। इस चक्र को आज्ञाकारी चक्र कहते हैं। यहां चंदन लगाने से हमारे मन और ब्रेन पर इसकी शीतलता का सीधा फायदा पहुंचता है।

दूर करे आंखों की थकान
हम अक्सर अपने ब्यूटी संबंधित आर्टिकल्स में आपसे कहते हैं कि चेहरे का मुख्य आकर्षण आंखें होती हैं और दूसरा नंबर मुस्कान का आता है। अगर आंखें थकी हुई और बोझिल दिखेंगी तो चेहरे का पूरा आकर्षण खराब हो जाएगा। इसलिए आंखों के आस-पास की त्वचा को सुंदर बनाने के लिए आप चंदन पाउडर को शहद में मिलाकर लेप बनाएं और लगा लें।

ऐसे करता है काम आंखों पर काम
चंदन और शहद का लेप आंखों की नाजुक त्वचा को नमी और ठंडक देता है। शहद जहां स्किन को मॉइश्चराज करता है ताकि वहां ड्राईनेस की वजह से झुर्रियां ना पड़ें और स्किन लूज ना हो, वहीं चंदन पाउडर आंखों को ठंडक देते हुए डैमेज स्किन सेल्स को रिपेयर करने का काम करता है। साथ ही इसकी खूशबू नाक और ब्रेन की सेल्स को रिलैक्स करती है।

यह भी पढ़ें -   मुख्यमंत्री धामी ने ध्वजारोहण कर दिलायी राष्ट्रीय एकता की शपथ, कहा-देश को शिखर पर ले जाने में सबको देना होगा अपना योगदान

पिंपल्स और ऐक्ने हटाता है
चंदन पाउडर में ऐंटिबैक्टीरियल गुण होते हैं। ये स्किन पर किसी भी तरह के बैक्टीरिया को ऐक्टिव नहीं होने देते। पोर्स को क्लीन रखते हैं और स्किन का ऐक्सट्रा ऑइल सोखकर इसे ऑइल फ्री रखने में मदद करते हैं। इससे चेहरे पर ऐक्ने और पिंपल की समस्या नहीं होती है और आपकाा चेहरा खिला-खिला रहता है।

दादी मां के नुस्खों का हिस्सा
चंदन पाउडर और चंदन का तेल केवल आयुर्वेद या चाइनीज मेडिकल ट्रीटमेंट में ही नहीं यूज होता है बल्कि भारत में पीढ़ियों से चंदन का उपयोग सुंदरता और शीतलता के लिए किया जाता है। यही वजह है कि हमारे यहां भगवान का श्रृंगार भी चंदन के बिना अधूरा रहता है। वैसे क्या आपको पता है कि शिवजी को चंदन का टीका क्यों लगाया जाता है? ताकि विष पीने के बाद उनके शरीर में हो रही जलन शांत हो सके। बस समझ जाइए कि स्किन और मन पर कैसे असर करता है चंदन…।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.