सावधान, ऑनलाइन बिक रहा नकली फॉस्टैग (FASTag), सरकार ने बताया जालसाजों से बचने का तरीका

खबर शेयर करें

समाचार सच, नई दिल्ली (एजेन्सी)। सरकार ने आधुनिक टोल नियमों को गति देने के लिए फॉस्टैग (FASTag) की व्यवस्था की गयी है, जिससे वाहन स्वामियों को जाम और अन्य समस्याओं से राहत भी मिली है। लेकिन अब इस मामले में कुछ धोखाधड़ी के मामले सामने आने लगे हैं। जिसे लेकर एनएचआई ने चेतावनी भी जारी की है कि फॉस्टैग (FASTag) खरीदते वक्त सावधानी बरती जाये, नहीं तो आपके सामने समस्या खड़ी हो सकती है। आपको बता दें कि अब फॉस्टैग (FASTag) ने जानकारी देते हुए कहा है कि कुछ जालसाजों ने नकली फॉस्टैग (FASTag) को ऑनलाइन बेचना शुरू कर दिया। धोखाधड़ी करने वालों ने एनएचएआई (NHAI) या आईएचएमसीएल (IHMCL) की तरह ही नकली फॉस्टैग (FASTag) बेच रहे हैं, जो असली जैसे लगते हैं, लेकिन ये नकली हैं। यहां सरकार से इन जालसाजों से बचने के लिये कुछ जानकारी दी हैं, आइए जानते हैं कैसे फ्रॉड से बच सकते हैं।

Ad

-जब बाजार में नकली फॉस्टैग (FASTag) बिक रहा है तो ऐसे में असली फॉस्टैग (FASTag) कहां से मिलेगा यह बड़ा सवाल है। इस बारे में एनएचएआई ने जानकारी दी है कि ऑरिजिनल फॉस्टैग (FASTag) खरीदने के लिए, आपको वेबसाइट https://ihmcl.co.in/ पर जाना चाहिए या माई फॉस्टैग एप (MyFastag App) से पा सकते हैं। या फिर आप फास्टैग (FASTag) को लिस्टेड बैंकों और बिक्री एजेंटों के अधिकृत प्वाइंट ऑफ सेल से भी खरीदा जा सकता है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड देवभूमि में कण कण में देवों का वास

-फास्टैग(FASTag) जल्दी से प्राप्त करने के लिए, आप एमोजोन (Amazon.in) पर भी जा सकते हैं या ICICI बैंक, HDFC बैंक, एयरटेल पेमेंट्स बैंक, एसबीआई, कोटक बैंक, एक्सिस बैंक और पेटीएम पेमेंट्स बैंक जैसे बैंकों से संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने किया कोविड मरीजों की डिस्चार्ज नीति में बदलाव

-अपने फास्टैग खाते को रिचार्ज करने के लिए, आप बैंक के क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड या निफट (NEFT) या आरटीजीएस (RTGS) या नेट बैंकिंग का उपयोग कर ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं। फास्टैग (FASTag) अकाउंट को 1 लाख रुपए तक का रिचार्ज किया जा सकता है। इसके अलावा आप अपने सुविधानुसार, गूगल पे, पेटीएम, एयरटेल पेमेंट्स बैंक और फोनपे से ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   गुड़ की मिठास-घुघुतिया का स्वाद घोलता उत्तरायणी का त्योहार

फास्टैग (FASTag) से संबंधित शिकायत यहां करें:
फास्टैग (FASTag) से संबंधित जानकारी फास्टैग (FASTag) वेबसाइट पर भी दी गई है। ऐसे में अगर किसी तरह की शिकायत करनी हो तो आप नेशनल हाईवे ऑथरिटी ऑफ इंडिया के हेल्पलाइन नंबर 1033 पर कॉल करके नकली फास्टैग (FASTag) की शिकायत कर सकते हैं।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *