रोज-रोज नहीं लेनी पड़ेगी बीपी की दवा, बस इन आदतों को बना लें अपना साथी

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। हाई ब्लड प्रेशर को साइलेंट किलर भी कहा जाता है। इसके अक्सर कोई लक्षण नहीं होते, लेकिन हृदय रोग और स्ट्रोक के लिए एक बड़ा जोखिम है। सेंट्रल फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक हाइपरटेंशन संयुक्त अमेरिका में मौत का एक बड़ा कारण है। विशेषज्ञों के अनुसार, अक्सर आपका बीपी इस बात पर निर्भर करता है, कि आपका दिल कितना ब्लड पंप कर रहा है। आपकी धमनियां जितनी संकुचित होगी आपका ब्लड प्रेशर उतना ही ज्यादा होगा।

सबसे अच्छी बात ये है कि जीवनशैली में बदलाव करके हाइपरटेंशन की रिस्क को कम किया जा सकता है, वो भी बिना किसी दवाओं के। तो आइए हम आपको ऐसे प्रभावी तरीके बता रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आपको ब्लड प्रेशर लेवल को करने में मदद मिलेगी।

वजन कम करें
यदि आपका वजन ज्यादा है, तो मात्र 5 से 10 पाउंड वजन कम करने से ही आपको ब्लड प्रेशर में बहुत अंतर दिखाई देगा। 2016 में कोक्रेन लाइब्रेरी में छपी एक अध्ययन की समीक्षा के अनुसार वजन घटाने वाले आहार का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को 3.2 मिमि एचजी डायस्टोलिक और 4.5 मिमि एचजी सिस्टोलिक तक कम किया जा सकता है।

कम खाएं प्रोसेस्ड फूड
यूएस फूड एंड ड्रग एसोसिएशन के मुताबिक आपके खाने में अधिकांश नमक प्रोसेस्ड फूड से आता है। ध्यान रखें जिन खाद्य पदार्थों पर लो-फैट का लेबल होता है, उसमें नमक और शक्कर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। फैट वो है, जो खाने के स्वाद को बढ़ाता है और आपको भरा हुआ महसूस कराता है।

यह भी पढ़ें -   कान का दर्द मिनटों में हो जाएगा छूमंतर, बस आजमाएं यह आसान उपाय

एफडीए के अनुसार पैकेट्स पर दिए गए लेबल को ठीक से पढ़ना चाहिए। किसी भी खाने के पैकेट के लेबल पर 5 प्रतिशत या उससे कम सोडियम को कम माना जाता है, जबकि 20 प्रतिशत या उससे ज्यादा को हाई मानते हैं।

धूम्रपान से बचें
धूम्रपान से बचना आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है। धूम्रपान आपके ब्लड प्रेशर में तत्काल रूप से लेकिन अस्थाई वृद्धि करता है। इससे हार्ट रेट में भी तेजी आती है। दरअसल, तंबाकू में मौजूद केमिकल आपकी ब्लड वेसेल्स वॉल को नुकसान पहुंचाकर सूजन पैदा करके और धमनियों को संकुचित करके ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार है। पबमेड सेंट्रल में छपे के अध्ययन के मुताबिक, घर में सैकंड हैंड स्मोकिंग करने वाले बच्चों में स्मोकिंग न करने वाले बच्चों की तुलना में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या ज्यादा देखी जाती है।

यह भी पढ़ें -   दिनभर रहती है थकान तो डाइट में शामिल करें ये चीज़ें, रहेंगे हमेशा ऊर्जावान

तनाव कम करें
घर, परिवार और कामकाज को लेकर लोगों को ओवरस्ट्रेस हो रहा है। ऐसे में तनाव को कम करने के तरीके तलाशना आपके स्वास्थ्य के अलावा ब्लड प्रेशर के लिए बहुत जरूरी है। तनाव को कम करने के लिए गहरी सांस लें, टहलने जाएं, किताब पढ़ें या कोई कोमेडी शो देखें।

एक रिसर्च के अनुसार, रोजाना म्यूजिक सुनने से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। वहीं 2015 में छपे एक छोटे से अध्ययन से पता चला है कि एक्यूपंचर भी सिस्टोलिक और डायस्टोलिकब्लड प्रेशर दोनों को कम करने के लिए बहुत अच्छा तरीका है।

डार्क चॉकलेट खाएं-
डार्क चॉकलेट ब्लड प्रेशर को कम करने के प्रभावी तरीकों में से एक है। लेकिन इसमें 60 से 70 प्रतिशत कोको होना चाहिए। डॉर्क चॉकलेट पर किए गए अध्ययनों की समीक्षा में पाया गया है कि हर दिन चॉकलेट के दो स्क्वायर खाने से ब्लड प्रेशर और शरीर में आने वाली सूजन को कम करने में बहुत मदद मिलती है। हावर्ड टीएच चौन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार, चॉकलेट में फ्लेवोनॉइड पर्याप्त मात्रा में होता है, जो ब्लड वेसेल्स को चौड़ा करने के लिए अच्छा है।

लहसुन का सेवन करें
ताजा लहुसन के अर्क का सेवन करने से हाइपरटेंशन की समस्या से मुक्ति मिलती है। 2012 में पबमेड हेल्थ में छपी एक समीक्षा में हाई ब्लड प्रेशर वाले 87 लोगों पर हुए एक अध्ययन का उल्लेख किया गया । जिसमें लहसुन खाने वालों में डायस्टोलिक में 6 एमएम की कमी और 12 एमएम की सिस्टोलिक कमी पाई गई।

यह भी पढ़ें -   कान का दर्द मिनटों में हो जाएगा छूमंतर, बस आजमाएं यह आसान उपाय

शराब कम पीएं
बता दें कि शराब काफी हद तक आपके ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होती है। फिर भले ही आप स्वस्थ क्यों न हो। क्लीनिकल एंड एक्सपेरीमेंटल फार्माकोलॉजी एंड फिजियोलॉजीमें छपी एक स्टडी 40 के अनुसार, शराब को मॉडरेशन में पीना जरूरी है। हर 10 ग्राम शराब का सेवन आपके ब्लड प्रेशर को 1 मिमि एचजी तक बढ़ा सकती है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अल्कोहल एब्यूज एंड एल्कोहोलिज्म के मुताबिक, मॉडरेट ड्रिंकिंग महिलाओं के लिए एक दिन में एक और पुरूषों में दो ड्रिंक तक अच्छी मानी गई है।

यदि जीवनशैली में यहां बताए गए तरीकों को अपनाने के बाद भी ब्लड प्रेशर कम नहीं होता, तो आपको डॉक्टर द्वारा दी गई दवा लेने पर विचार करना चाहिए। ये आपकी स्थिति में काफी सुधार कर सकती हैं। दवाओं के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *