दिल्ली से नैनीताल पत्नी को लाया घुमाने, पति ने हत्या कर सड़क किनारे दबाया शव, ससुरालियों की शिकायत पर 45 दिन बाद खुला मामला

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, दिल्ली/नैनीताल। दिल्ली से नैनीताल घुमाने लाये एक पति द्वारा अपने पत्नी की हत्या करने का मामाल प्रकाश में आया है। ससुरालियों की तहरीर पर पुलिस ने 45 दिन बाद इस मामले का खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक 45 दिन पूर्व आरोपी अपनी पत्नी को दिल्ली से नैनीताल घुमाने लाया था। जहां बाद में उसने उसकी हत्या कर शव सड़क किनारे दबा दिया था। सोमवार को पुलिस ने आरोपी पति की निशानदेही पर कलमठ पुलिया के नीचे दबे मृतका का कंकाल बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

पुलिस के मुताबिक चाणक्य पैलेस डाबरी, द्वारिका नई दिल्ली निवासी 26 वर्षीय बेटी बबीता की उसके पिता डाली राम ने 15 जून को द्वारका थाने में गुमशुदगी दर्ज करवायी थी। पुलिस पीड़ित परिवार ने ससुरालियों पर गंभीर आरोप भी लगाये थे। जिस पर पुलिस कार्रवाई करते बबीता की तलाश शुरू कर दी। जिस पर पुलिस को 12 जून को बबीता के मोबाइल की अंतिम लोकेशन नैनीताल के समीप हनुमानगढ़ी के पास की मिली। बाद में पुलिस ने बबीता के पति राजेश राय से सम्पर्क कर उससे पूछताछ शुरू की। राजेश मूल रूप से ऊधमसिंह नगर जिले के शक्ति फार्म का रहना वाला है। पुलिस को पूछताछ के दौरान राजेश को काई सुराग नहीं लगा। सोमवार को दिल्ली पुलिस के एसआई नरेंद्र सिंह, कॉस्टेबिल सुनील कुमार व शाहिद राजेश को लेकर नैनीताल पहुंचे। जहां उससे कड़ी पूछताछ की गयी। बाद में राजेश पस्त पड़ गया और सारा मामला खोल दिया। उसने बताया कि वह 11 जून को वह ऊधमसिंह नगर में मां की तबीयत खराब के बहाने से बबीता को दिल्ली से नैनीताल ले आया था। 12 जून को वह बबीता के साथ पैदल ही हल्द्वानी की ओर निकल गया। करीब 13 किलोमीटर चलने के बाद एक कलमठ में ले जाकर उसकी हत्या कर दी और शव पुलिया के नीचे दबा दिया।
इधर पुलिस बताया है कि राजेश गोविंद पुरी दिल्ली क्षेत्र में रहता था। वही राजेश एक माल में कार्य करता था। वहीं माल में कार्य करने वाली बबीता से राजेश की मुलाकात हुई। कुछ साल पहले दोनों में नजदीकियां बढ़ी तो प्रेम प्रसंग शुरू हो गया। इस बीच बबीता गर्भवती हो गई। शादी के लिये मना करने पर बबीता ने 14 जुलाई 2020 को डाबरी थाने में राजेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया। पुलिस ने युवक को उधमसिंह नगर से गिरफ्तार कर लिया। कुछ समय बाद राजेश और बबीता में समझौता हो गया और सजा से बचने के लिए राजेश बबीता से शादी ली।
आरोपी राजेश राय ने पूछताछ में बताया कि वो अपनी सास और पत्नी से परेशान था। उनके बीच आए दिन कलह और झगड़े होते रहते थे। इसके बाद राजेश ने बबीता को ठिकाने लगाने की रणनीति बनायी और बहाने से नैनीताल लाकर अपनी पत्नी बबीता की हत्या कर दी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *