सीएम हरीश रावत ने रखा उपवास, दिया भाजपा भगाओ राज्य बचाओ का नारा

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गांधी पार्क में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति के समक्ष करीब एक घंटे का सांकेतिक उपवास रखा। इस दौरान भाजपा भगाओ राज्य बचाओ का नारा भी दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बेरोजगारी, दलित उत्पीड़न, भ्रष्टाचार, खनन और कर्मचारियों के संघर्ष को अपने चुनाव प्रचार के केंद्र में रखेगी। इन विफलताओं को हथियार बनाकर पार्टी जनता के बीच जाएगी।

Ad

पूर्व सीएम हरीश रावत ने आरोप लगाए कि भाजपा शासन काल में दलित उत्पीडऩ की कई शर्मनाक घटनाएं हुई हैं। जिसमें सितारगंज में एक दलित अध्यापक के साथ विधायक व पुलिस ने अमानवीय व्यवहार किया। महंगाई ने आम आदमी का जीना दूभर कर दिया है। तमाम युवाओं व संघर्षशील नौजवानों ने अपना पूरा वर्ष सड़कों व धरना प्रदर्शन में बीता दिया है। जनता में भाजपा सरकार के खिलाफ भारी आक्रोश है। सरकार में बैठे जनों के कानू में जूं भी नही रेंग रही है। उन्होंने कहा कि उपनल, पीआरडी, पुलिस के स्वजन आदि कई संगठन लगातार संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन सरकार में कोई भी सुनवाई नहीं हो रही है। महात्मा गांधी ने हमें शांतिपूर्ण ढंग से संघर्ष करने का रास्ता दिखाया था इसलिए हम उनकी मूर्ति के समक्ष धरने पर बैठे।

यह भी पढ़ें -   ऑमिक्रॉन से बचाव में मदद कर सकते हैं, आपकी रसोई में ये हर्ब

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि अहिंसात्मक सत्याग्रह कर महात्मा गांधी ने अंग्रेजों को भगा दिया था और देश को आजादी दिलाई। कांग्रेसी भी आज महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष उपवास पर बैठे हैं। हमने भी यह संकल्प लिया है कि आज के दिन हम भाजपा के तमाम अन्याय उत्पीड़न के विरुद्ध आवाज उठाएंगे। गणेश गोदियाल ने कहा कि भाजपा के दिन पूरे हो गए हैं। जनता में भारी आक्रोश है। प्रदेश के लाखों कर्मचारी जहां आंदोलित हैं, वहीं जनता महंगाई से पीड़ितस है। बेरोजगार नौजवान सड़कों पर धक्के खा रहे हैं। सरकार में बैठे हुए लोग सत्ता के मद में चूर हैं। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं का आह्वान किया कि जनता के बीच में जाकर उनकी परेशानी को कम करने के लिए भाजपा की पोल खोलें।

यह भी पढ़ें -   इस बार मकर संक्रांति पर श्रद्धालुजन नहीं लगा पायेंगे हरि की पैड़ी पर डुबकी

इस मौके पर पूर्व काबीना मंत्री दिनेश अग्रवाल, गढ़वाल मंडल की की गरिमा महरा दसौनी, महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष आशा मनोरमा डोबरियाल, संग्राम सिंह पुंडीर, टीटू त्यागी, विरेंद्र पोखरियाल, रघुवीर बिष्ट, अमरजीत सिंह, अशोक वर्मा आदि मौजूद रहे।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *