ठेकेदारों ने की लोनिवि कार्यालय में तालाबंदी, मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। कांट्रेक्टर वेलफेयर सोसायटी से जुड़े ठेकेदारों ने रॉयल्टी नीति के विरोध में लोनिवि कार्यालय में तालाबंदी की। बाद में प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया।

ठेकेदारों का लोनिवि कार्यालय में अनिश्चितकालीन धरना सोमवार को भी जारी रहा। इस बीच आंदोलित ठेकेदारों ने कार्यालय के मुख्य गेट में ताला लगा दिया। इस बीच ठेकेदारों ने कहा कि रॉयल्टी में खनन नियमावली 2005 को जोड़ा जा रहा है, यह न्यायोचित नहीं। सरकार नियमावली के बजाय केवल रॉयल्टी मूल्य का भुगतान ले। उन्होंने ठेकेदारों के लिए रॉयल्टी व्यवस्था पूर्व की भांति करने की मांग की। तालाबंदी की सूचना मिलने पर दोपहर के समय सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह मौके पर पहुंची। इस दौरान ठेकेदारों ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड के इस जिले में सात पशु तस्कर गिरफ्तार, प्रतिबंधित मांस और हथियार बरामद

करीब तीन घंटे तक हुई तालाबंदी से लोनिवि अधिकारियों व कर्मचारियों में अफरातफरी मची रही।
तालाबंदी करने वालों में सोसायटी के अध्यक्ष योगेश तिवारी, नवीन चंद्र, गजेंद्र गोनिया, दिलशाद, मयंक भट्ट, जगदीश भट्ट, आनंद पडियार, घनश्याम पाठक, शकील अहमद, उमेश जोशी, उमेश पनेरू, किशोर मेहरा, कैलाश साह आदि शामिल थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440