उत्तराखंड के स्थानीय उत्पादों की राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मांग बढ़ाने पर चर्चा

खबर शेयर करें

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने नई दिल्ली में केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे से की भेंट

समाचार सच, देहरादून/नई दिल्ली। उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने नई दिल्ली में केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे से भेंट की। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने केंद्रीय एमएसएमई मंत्री श्री राणे से उत्तराखंड में एमएसएमई प्रोत्साहन के माध्यम से रिवर्स माइग्रेशन को बढ़ावा देने के विषय पर विस्तृत चर्चा की। राज्यपाल ने केंद्रीय मंत्री से उत्तराखंड राज्य से एमएसएमई उत्पादों के निर्यात को बढ़ाने का आग्रह किया।

Ad

बैठक के दौरान मुख्यतः उत्तराखंड के स्थानीय उत्पादों की राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मांग बढ़ाने पर चर्चा की गई। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने केंद्रीय मंत्री से उत्तराखंड के एमएसएमई हेतु नई टेक्नोलॉजी, पैकेजिंग, टेक्नोलॉजी मॉर्डनाइजेशन, पर्याप्त फंडिंग, स्टोरेज तथा लैब स्थापित करने के संबंध में भी सुझाव दिए। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि उत्तराखंड में महिला स्वयं सहायता समूह अच्छा कार्य कर रहे हैं। स्वयं सहायता समूह स्थानीय उत्पादों और शिल्पों पर आधारित लघु उद्यमों के माध्यम से राज्य में आर्थिक सशक्तिकरण के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन ला रहे हैं। राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में इन महिला स्वयं सहायता समूहों को एमएसएमई से जोड़कर और भी अधिक सशक्त किया जाना चाहिए। इन्हें पर्याप्त फंडिंग उपलब्ध कराई जानी चाहिए। इससे राज्य में रिवर्स माइग्रेशन को बढ़ावा मिलेगा।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में दशमेश पिता श्री गुरू गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व पर निकाला गया भव्य नगर कीर्तन

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि उत्तराखंड में ऑर्गेनिक फार्मिंग के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। एमएसएमई के तहत राज्य में ऑर्गेनिक उत्पादों की वैश्विक स्तर पर डिमांड और मार्केटिंग बढ़ाने पर विशेष बल दिया जाना चाहिए। राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखंड में एमएसएमई रिवर्स माइग्रेशन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। केंद्रीय मंत्री श्री नारायण राणे ने इस संबंध में हर संभव सहायता व सहयोग का आश्वासन दिया।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *