पुलिस द्वारा जागरूक करने के बाद भी लोग हो रहे हैं साइबर ठगों के शिकार, हल्द्वानी में युवक के खाते से उड़ाए एक लाख

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। पुलिस की ओर से लोगों को जागरूक करने के लिए लगातार अभियान चलाए जाते हैं, लेकिन इसके बावजूद भी लोग साइबर ठगों का शिकार बन रहे हैं। साइबर ठगों की ओर से बिछाए गए जाल में फंसकर, लोग अपनी मेहनत की कमाई गंवाने में लगे हुए हैं। जब तक लोगों को उनके साथ हुई ठगी का अहसास होता है तब तक साइबर ठग लोगों के बैंक खातों से लाखों रुपए का ट्रांजैक्शन कर लेते हैं और फिर ठगी गई राशि को अलग-अलग बैंक खातों में ट्रांसफर कर विड्रॉ कर लेते हैं। ऐसा ही एक मामला हल्द्वानी महानगर में सामने आया है। यहां साइबर ठगों ने एक युवक के बैंक खाते से एक लाख की रकम उड़ा ली। ठगी का एहसास होने पर पीड़ित ने पुलिस की शरण ली है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर अपनी कार्यवाही शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें -   भारतीय जनता पार्टी नगर ने गांधी जयंती के अवसर पर गांधी आश्रम से खरीदी उपयोगी वस्तुएं

पुलिस को सौंपी तहरीर में विरेन्द्र पाण्डे पुत्र गिरीश चन्द्र पाण्डे निवासी मानपुर पश्चिम, देवलचौड़ ने कहा है कि उसके भाई सुरेश पांडे ने एसबीआई में लोन के लिए आवेदन किया। इस संबंध में उसने एसबीआई के कस्टमर केयर में संपर्क साधने का प्रयास किया, लेकिन संपर्क नहीं हो गया। इसके बाद उसे एक सख्श का फोन आया। फोन करने वाले ने स्वयं को बैंक कर्मचारी बताकर सुरेश से उसके बैंक खाते के संबंध में पूरी जानकारी ले ली। इसके बाद उसे एक ओटीपी भेजा गया और मोबाइल पर एक ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा गया। ऐप डाउनलोड करते ही सुरेश के बैंक खाते से एक लाख रूपये निकाले जाने का मैसेज आ गया। इस पर उसने फोन करने वाले सख्श से संपर्क साधने का प्रयास किया, लेकिन नंबर बंद मिला। इस पर उसे ठगे जाने का एहसास हुआ। पुलिस ने तहरीर के आधार पर साइबर ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर अपनी कार्यवाही शुरू कर दी है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *