वन विभाग हुआ सख्त, जंगलों में आग लगाने पर 196 लोगों पर केस दर्ज

खबर शेयर करें

समाचार सच, नैनीताल। उत्तराखंड में वन विभाग जंगलों की आग को लेकर अब शरारती तत्वों से कड़ाई के साथ निपटने का फैसला कर चुका है। राज्य में वन विभाग ने अब तक जंगलों में आग लगाने पर 196 लोगों पर केस दर्ज किए हैं। इसमें कुछ आग की घटनाएं ऐसी हैं, जिन्हें लगाने वालों का वन विभाग ने पता लगा लिया है।

जानकारी के अुनसार इन मामलों में कुल 29 लोगों को नामजद किया गया है, जबकि 176 केस अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ दर्ज किए गए हैं। खास बात यह है कि इस बार वन विभाग ने जंगलों में आग के लिए सीधे तौर पर डीएफओ को जिम्मेदार बताया है। साथ ही जंगलों में लगने वाली आग के लिए डीएफओ को खुद मौके पर जाने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड के इस रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में मिला व्यक्ति की लाश, फैली सनसनी

इधर वन मंत्री सुबोध उनियाल ने बताया कि नैनीताल में जंगलों में लगी आग के लिए सेना ने मोर्चा संभाला है और आग को काबू में लाने के प्रयास किया जा रहे हैं, लेकिन राज्य में विभिन्न जगहों पर जंगलों में लगी आग के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग करने से वन विभाग परहेज कर रहा है, क्योंकि हेलीकॉप्टर के उपयोग से आग बुझाने का काम बहुत सफल प्रक्रिया नहीं है। उल्टा हेलीकॉप्टर की पंखड़ियों से निकलने वाली हवा से आग फैलने का खतरा बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि बिना लोगों की सहभागिता के जंगलों की आग बुझाना नामुमकिन है, इसलिए लोगों को जंगलों से जोड़ने और उनका सहयोग लेने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए तमाम समितियां को सम्मानित करने और उन्हें इनाम देने तक के भी कार्य वन विभाग द्वारा किए जा रहे हैं।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440