उधमसिंह नगर में दो दिन से लापता चल रहे वन दरोगा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, यहां मिला शव

खबर शेयर करें

समाचार सच, यूएसनगर/खटीमा। उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर जिले के खटीमा के किलपुरा रेंज में दो दिन से लापता शारदा रेंज के वन दरोगा का शव मिला है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेज दिया है। Forest inspector died under suspicious circumstances

शारदा रेंज टनकपुर की कलोनिया चौकी में तैनात चोरगलिया निवासी 47 वर्षीय वन दरोगा दीप चंद्र उप्रेती शनिवार को जंगल को निकले थे। वहां से वह दुगाड़ी श्रीपुर बिछवा सब्जी लेने आ रहे थे। उनके साथ फायर वॉचर सुभाष था। प्यास लगने पर दरोगा रास्ते में बैठ गए और सुभाष को पानी लेने भेज दिया।

यह भी पढ़ें -   संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत, स्पोर्ट्स स्टेडियम के गेट पर अटका मिला शव

जब सुभाष लौटा तो वन दरोगा नहीं मिले। सुभाष ने इसकी सूचना सेना पानी चौकी के स्टाफ को दी। वहां से सूचना टनकपुर रेंजर को दी गई। रेंजर ने एक टीम मौके पर भेज तलाश की लेकिन वन दरोगा का पता नहीं चला। सोमवार तड़के शव मिलने की सूचना के बाद पहुंची पुलिस को मृतक के पास से मोबाइल, जेब से 13 हजार रुपये और आईडी कार्ड मिला है।

यह भी पढ़ें -   युवा वैश्य महासभा हल्द्वानी के अतुल जायसवाल अध्यक्ष तथा कपिल अग्रहरि बने महामंत्री

शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर मनी पुण्यानी ने बताया कि वन दरोगा के शव पर कहीं चोट के निशान नहीं मिले हैं। गर्मी से शव सड़ चुका है। पोस्टमार्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है, इसलिए विसरा सुरक्षित रखा है। एसपी सिटी रुद्रपुर मनोज कत्याल ने कहा कि मामले को संदिग्ध मानते जांच की जा रही है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440