उत्तराखण्ड के राजकीय महाविद्यालय शीघ्र वाई-फाई सुविधा से होंगे लैस, शासन स्तर पर कमेठी गठित

Ad
Ad
खबर शेयर करें

उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने ली विभाग की समीक्षा बैठक, दिये दिशा-निर्देश

समाचार सच, देहरादून। सूबे के राजकीय महाविद्यालय शीघ्र वाई-फाई सुविधा से लैस होंगे। इस कार्य को अमलीजामा पहनाने के लिए शासन स्तर पर एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया। निदेशक आईटीडीए की अध्यक्षता में गठित समिति में शासन स्तर से संयुक्त सचिव/उप सचिव उच्च शिक्षा, निदेशक उच्च शिक्षा या उनके द्वारा नामित प्रतिनिधि के साथ ही दो तकनीकी विशेषज्ञ आईटीडीए से शामिल किये जायेंगे।

यह भी पढ़ें -   दूसरी बार ताला तोड़ चोरों ने उड़ाई हजारों की नगदी

सोमवार को विधानसभा स्थित सभाकक्ष में उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक ली। जिसमें राज्य के सभी 105 राजकीय महाविद्यालयों में वाई-फाई सुविधा मुहैया कराने के लिए विस्तृत चर्चा की। बैठक में वाई-फाई सुविधा उपलब्ध कराने हेतु शासन स्तर पर एक उच्च स्तरीय समिति गठन का निर्णय लिया गया। जिसमें आईटीडीए के निर्देशक डा. आशीष श्रीवास्तव को समिति का अध्यक्ष नामित किया गया। जबकि समिति में शासन स्तर से संयुक्त सचिव या उप सचिव उच्च शिक्षा, निदेशक उच्च शिक्षा या उनके द्वारा नामित प्रतिनिधि के साथ ही दो तकनीकी विशेषज्ञ आईटीडीए से शामिल किये जायेंगे।

यह भी पढ़ें -   गंगोत्री से चुनाव लड़ेंगे कर्नल अजय कोठियाल : सिसोदिया

समिति वाई-फाई कनेक्टीविटी संबंधी क्रय प्रक्रिया पूर्ण कर इस कार्य हेतु एक कार्यदायी संस्था का चयन कर उच्च शिक्षा विभाग को अग्रिम कार्यवाही के लिए अग्रसारित करेगी। कार्यदायी संस्था का चयन होने के उपरांत उच्च शिक्षा विभाग संबंधित संस्था को कार्यादेश जारी करेगा। कार्य पूरा होने के उपरांत आने वाले व्यय का भुगतान भी उच्च शिक्षा विभाग द्वारा ही किया जायेगा।

यह भी पढ़ें -   आरटीओ में कार्य बहिष्कार का दूसरा दिन-पदोन्नति सभी कार्मिकों का न्यायापूर्ण अधिकार: सुषमा

बैठक में अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा राधा रतूड़ी, प्रभारी सचिव उच्च शिक्षा दीपेन्द्र चौधरी, निदेशक आईटीडीए डॉ. आशीष श्रीवास्तव, निदेशक उच्च शिक्षा डा. पी.के. पाठक, अपर सचिव उच्च शिक्षा एम.एम. सेमवाल, अनु सचिव ब्योमकेश दुबे, टीएफएम आईटीडीए संजय माथुर, नोडल एडुसेट डा. विनोद कुमार, पुष्कर नेगी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *