राज्यपाल ने की राजभवन के समस्त कार्मिकों एवं उनके परिजनों से मुलाकात

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht
खबर शेयर करें

राजभवन में बनेगा फैमिली वेल्फेयर सेन्टर: राज्यपाल

समाचार सच, देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने बुधवार को राजभवन के समस्त कार्मिकों एवं उनके परिजनों से मुलाकात की। राज्यपाल ने राजभवन के लगभग 400 से अधिक समस्त कार्मिकों में प्रत्येक कार्मिक एवं उनके परिजनों से व्यक्तिगत रूप से बातचीत की। राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह ने प्रत्येक कार्मिक एवं उनके परिवार के प्रत्येक सदस्य से उनकी व्यक्तिगत एवं कार्यालयी समस्याओं के बारे में जाना। राज्यपाल ने समस्त राजभवन परिवार को नववर्ष की शुभकामनाएँ देते हुये कामना की कि नववर्ष सभी के लिये अच्छा स्वास्थ्य, शांति एवं सुख-समृद्धि लेकर आए। इस अवसर पर फर्स्ट लेडी श्रीमती गुरमीत कौर भी उपस्थित थी।

अपने 400 कार्मिकों से अधिक राजभवन परिवार को सम्बोधित करते हुये राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि राजभवन की गरिमा हम सबकी सर्वाेच्च प्राथमिकता है। सभी अधिकारी एवं कार्मिक राजभवन की गरिमा, सम्मान एवं प्रतिष्ठा के अनुसार अपने व्यवहार बनाएं एवं कार्यों का संपादन करें। राजभवन में उत्तराखण्ड और उत्तराखण्डियत की झलक, अहसास और अनुभव दिखना चाहिये। राज्यपाल ने कहा कि राजभवन के अधिकारियों एवं कार्मिकों की समस्याओं के समाधान हेतु प्रत्येक शनिवार को ओपन डे घोषित किया जाएगा। इस दिन समस्त कार्मिक अपनी समस्याएं सीधे राज्यपाल से साझा कर पाएंगे। राज्यपाल ने कहा कि आपकी समस्याएं मेरी समस्याएं हैं। कार्मिक अपनी कार्यालयी एवं निजी समस्याएं सीधे राज्यपाल के समक्ष रख सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड के शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी के मामले पहले नंबर पर - डॉ दिव्या नेगी

राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि प्रत्येक शासकीय कार्मिक अपने कार्य पूरी श्रद्धा और निष्ठा से करे। कार्मिक अपने कार्यों में निरन्तर उत्कृष्टता प्राप्त करने का प्रयास करें। निरन्तर सीखते रहें। शासकीय कार्याे में ईमानदारी और निष्ठा अत्यन्त आवश्यक है। अपने आप से तथा अपनी आत्मा से कभी समझौता न करें। नैतिकता, मूल्यों, प्रक्रियाओं, नियमों एवं सिद्वान्तों में भ्रष्टाचार जरा भी बर्दाश्त नही किया जाना चाहिये। भ्रष्टाचाररहित कार्यशैली, आत्म-अनुशासन, ईमानदारी, निष्ठा और मानवीय संवेदनशीलता प्रत्येक शासकीय कार्मिक की लक्ष्मण रेखा है।

राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि राजभवन में जल्द ही फैमिली वेल्फेयर सेन्टर बनाया जायेगा जिसमें राजभवन में कार्यरत कार्मिकों एवं उद्यान कार्मिकों, दैनिक श्रमिकों की पत्नियों, बेटियों व परिवार की महिला सदस्यों को विभिन्न प्रकार के स्वरोजगार के प्रशिक्षण दिए जाएंगे। इस फैमिली वेल्फेयर सेन्टर से महिला स्वयं सहायता समूहों का गठन भी किया जाएगा। जरूरतमंद एवं स्वरोजगार की इच्छुक महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त एवं आत्मनिर्भर करने का प्रयास किया जाएगा।

राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि राजभवन में कार्यरत कार्मिक, उद्यान कर्मियों एवं दैनिक श्रमिकों की पत्नियों, बच्चों एवं युवाओं के लिये नव वर्ष पर राजभवन में एक कम्प्यूटर टेªनिंग सेन्टर खोला जाएगा।
राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि राजभवन में महिला अधिकारियों, कर्मियों, बालिकाओं एवं महिलाओं को सेल्फ डिफेन्स की टेªनिंग देने के लिए नव वर्ष पर एक सेल्फ डिफेन्स टेªनिग सेन्टर स्थापित किया जाएगा।
राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि जी बी पन्त कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में विकसित किये गए बीजों से 75 प्रकार के फलों के पौधें राजभवन में लगाए जाएंगे। इसके साथ ही राज्यपाल ने कहा कि राजभवन में स्थापित गौशाला में गायों की संख्या बढ़ाकर इनसे प्राप्त दूध राजभवन आवासीय कॉलोनी एवं कार्मिकों को बिना लाभ एवं हानि की लागत मूल्य पर उपलब्ध करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें -   तेजपत्ता और दालचीनी का मिश्रण स्वास्थ्य के लिए कितना लाभदायक है जाने इसके के फायदे

राज्यपाल ले ज गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए। अन्य लोगों को भी सोशल डिस्टेसिंग के पालन, मास्क पहनने और स्वच्छता बनाए रखने के लिये प्रेरित करना होगा। लोगों को शिक्षित एवं जागरूक करने की जरूरत है। कोविड तथा इसके नित नए वैरिएंट से लड़ने के लिये हमें कड़े आत्मानुशासन तथा दृढ़ इच्छाशक्ति की जरूरत है। कोरोना से लड़ने में भारतीयता हमारा सबसे मजबूत हथियार है। भारतीय जीवन शैली के द्वारा ही हम इस चुनौती का सफलतापूर्वक सामना कर सकते हैं।

इस अवसर पर सचिव राज्यपाल डा0 रंजीत कुमार सिन्हा, परिसहाय राज्यपाल सुश्री रचिता जुयाल, मेजर तरूण कुमार एवं राजभवन सचिवालय के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.