सुबह जल्दी उठने में होती है परेशानी? तो जल्दी उठने में कर सकते है आपकी मदद

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। अलार्म बटन को दबाकर और पांच मिनट एक्स्ट्रा सोना उस समय बहुत अच्छा लग सकता है, लेकिन इसकी वजह से अक्सर आपकी सुबह की दिनचर्या गड़बड़ा जाती है। अपने नाश्ते से लेकर अपने कपड़ों की इस्त्री करने तक में देरी, आपके पूरे दिन के सामंजस्य को बिगाड़ सकती है। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है, तो आपको अपना नींद का चक्र ठीक करने की आवश्यकता है।
अब तक, हर कोई इस बात से सहमत हो सकता है कि इस लॉकडाउन ने हमारे नींद चक्र को पहले से कहीं ज्यादा गड़बड़ कर दिया है। सारी रात हमारी पसंदीदा वेब सीरीज़ को मज़े से देखने से लेकर दोपहर के सोने तक, नौ से पांच की दिनचर्या में वापस आना मुश्किल हो गया है। ऐसी स्थिति में, एक्स्ट्रा पांच मिनट सोने की कोशिश आपको दिन भर के लिए आलसी बना सकती है।
लेकिन आपको पता होना चाहिए कि आपके शरीर को जागने के लिए मजबूर करना बिल्कुल भी स्वस्थ नहीं है। वास्तव में, यह आपको दिन भर थका हुआ और परेशान महसूस करा सकता है।
इसलिए, यहां पांच चीजें हैं जो आप दिन के दौरान कर सकती हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आप रात को अच्छी तरह से सो सकती हैं और अलार्म को बंद करने की आवश्यकता के बिना अच्छी तरह से जाग सकती हैं –
पर्याप्त दिन की रोशनी प्राप्त करें
दिन के दौरान पर्याप्त प्रकाश न मिलना आपके शरीर की लय को बाधित कर सकता है। जिससे रात में सो जाना मुश्किल हो जाता है। स्प्रिंगर ओपन चॉइस में प्रकाशित एक अध्ययन में कहा गया है कि प्रकाश का एक चिकित्सीय प्रभाव है जो नींद, मनोदशा और सामान्य स्वास्थ्य में सुधार करता है।
दिन के दौरान पर्याप्त धूप प्राप्त करने से सर्कैडियन लय को विनियमित करने में मदद मिलती है, जिससे आपके नींद चक्र में सुधार होता है। इसके अलावा, सुबह के समय थोड़ी सी धूप लेना भी आपको जागने में मदद कर सकता है। जिससे आपका मूड बेहतर होता है।
नियमित व्यायाम करें
व्यायाम न केवल वजन कम करने के लिए, बल्कि अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए भी आपके जीवन का एक हिस्सा होना चाहिए। कोक्रेन सिस्टमैटिक रिव्यू में प्रकाशित एक अध्ययन में, यह नोट किया गया था कि व्यायाम करने से थकान को कम करके ऊर्जा के स्तर में वृद्धि होती है। और तो और, यह नींद की गुणवत्ता और उन स्थितियों को बेहतर बनाने में भी मदद करता है जो नींद की कमी का कारण बनती हैं।
अपने अलार्म को अपने बिस्तर से दूर रखें
जब आप अपनी अलार्म घड़ी को अपनी बगल में रखती हैं, तो स्नूज़िंग से बचना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। इसे बिस्तर से बहुत दूर रखने से आप उठने के लिए मजबूर हो जाएंगी और इसे बंद करने के लिए अपने शरीर को थोड़ा सा हिलाएंगी।
फ्रंटियर्स इन साइकोलॉजी में प्रकाशित शोध के अनुसार, नींद का विखंडन तब होता है जब आप अपने अलार्म को बंद कर देते हैं, आपको अनुत्पादक बना सकता है।
सोने का समय नियमित करें
कुछ चीजें करने या ना करने और बिस्तर पर लेटने से पहले कुछ चीजों से परहेज करना आपकी नींद की गुणवत्ता और अवधि निर्धारित कर सकता है। यदि आप दोपहर के बाद या सोते समय बहुत कैफीन पीती हैं, तो यह आपको सो जाने से रोक सकता है। अन्य चीजें जैसे मोबाइल फोन या लैपटॉप को देखना भी आपकी नींद को बाधित कर सकता है।
सबसे ज्यादा जरूरी है कि आप अपना सोने का रूटीन ठीक करें। किसी भी उपकरण को दूर रखें, रोशनी बंद करें और शांति से लेटें। आप बिस्तर पर लेटने से ठीक पहले रात का स्किनकेयर रूटीन आज़मा सकती हैं, शॉवर ले सकती हैं या किताब पढ़ सकती हैं।
सोने जाने से ठीक पहले मेडिटेशन का प्रयास करें
जैसे ही हम सोने के लिए अपने बिस्तर पर लेटते हैं, हम दुनिया भर की चीजें याद करने लगते हैं। जाहिर है, इससे हमारी नींद बाधित होती है। बिस्तर पर जाने से सिर्फ 10 मिनट पहले ध्यान करने से दिल की धड़कन कम होती है और आपके शरीर को आराम करने के लिए तैयार किया जाता है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *