कुमाऊं और गढ़वाल जनसभाओं में प्रियंका गांधी ने बीजेपी पर जमकर बोला हमला, पेपर लीक, नोटबंदी रोजगार, महंगाई जैसे मुद्दों को उठाया

खबर शेयर करें

अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर प्रियंका गांधी ने भाजपा को जमकर घेरा

समाचार सच, रामनगर/रुड़की। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी आज उत्तराखंड दौरे पर रही। इस दौरान प्रियंका गांधी ने रामनगर और रुड़की में जनसभाएं की. कुमाऊं और गढ़वाल में हुई जनसभाओं में प्रियंका गांधी ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। प्रियंका गांधी ने पेपर लीक, नोटबंदी रोजगार, महंगाई जैसे मुद्दों को उठाया। रुड़की और रामनगर की जनसभाओं में प्रियंका गांधी ने अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर भी आवाज बुलंद की। अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर प्रियंका गांधी ने बीजेपी को जमकर घेरा।

उत्तराखंड के रामनगर में हुई जनसभा में प्रियंका गांधी ने पहाड़ से जुड़े मुद्दों को उठाया. प्रियंका गांधी ने अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर बीजेपी पर हमला बोला. प्रियंका गांधी ने जनता से पूछा आप मुझे बताइए नारी शक्ति,महिला सशक्तिकरण की बात कौन करता है? मोदी जी, पहले तो धूमधाम से आरक्षण लाये, आरक्षण पास हुआ, देशभर की महिलाओं को पीएम मोदी को इकठ्ठा कर माला पहनाई, बाद में पता लगा वो आरक्षण 5, 6 वर्षों के लिए लागू ही नहीं होगा. प्रियंका गांधी ने कहा अंकिता भंडारी के साथ क्या हुआ? प्रियंका गांधी ने कहा जिन्होंने अंकिता भंडारी का शोषण किया, उसकी हत्या की, उन्हें कौन संरक्षण दे रहा है? प्रियंका गांधी ने कहा इस बात को लेकर पीएम मोदी को जवाब देना चाहिए।

प्रियंका गांधी ने कहा पीएम मोदी कहते हैं नारी शक्ति को आगे बढ़ा रहे हैं, तो अंकिता भंडारी के हत्यारों को संरक्षण कौन दे रहा है? जब हमारी खिलाड़ी बहनें कह रही थीं कि हमारा यौन शोषण हुआ तब मोदी जी कहां थे? जब हाथरस में रेप पीड़िता को जलाया गया तो अपराधियों को किसने बचाया? उन्नाव कांड में अपराधियों को संरक्षण किसने दिया? वे जो भी कर रहे हैं वह नारी शक्ति के लिए नहीं, अपनी शक्ति और अपनी सत्ता के लिए है। प्रियंका गंधी ने कहा भाजपा के 10 साल के कार्यकाल में सबसे ज्यादा महंगाई बढ़ी है. नौजवान बेरोजगार हुआ है। भाजपा की सरकारों में पेपर लीक होते हैं. उन्होंने कहा ये चुनाव आपका और देश का भविष्य तय करेगा।

यह भी पढ़ें -   अल्मोड़ा में वनाग्नि की चपेट में आने से 4 वनकर्मियों की मौत, चार गंभीर, सीएम ने किया मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख की आर्थिक मदद एलान

प्रियंका गांधी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा नोटबंदी का नुकसान आज तक देश की जनता झेल रही है। भाजपा ने बड़े पूंजी पतियों के 16 हजार करोड़ रुपए लोन माफ किया है। किसानों का कर्ज सरकार माफ नहीं करती। कर्ज के कारण किसान आत्महत्या कर रहा है.प्रियंका गांधी ने कहा कांग्रेस की सरकार आने पर सभी सामान जीएसटी मुक्त करेंगे. पचास प्रतिशत रोजगार महिलाओं को दिलवाएंगे। एक लाख रूपए सालाना महिलाओं को मिलेंगे।

प्रियंका ने कहा कि, यहां आने से पहले उन्होंने पीएम मोदी का हाल ही में ऋषिकेश रैली में दिया भाषण सुना, जिसे सुनकर उन्हें लगा कि ये तो 5 साल पुराना भाषण है। पीएम वही कह रहे थे जो बातें उन्होंने 5 साल पहले कही थीं. पीएम मोदी कहते हैं कि उत्तराखंड और हिमाचल को वो देवभूमि मानते हैं. इसलिए उनके मन में इस दो राज्यों के लिए खास जगह है लेकिन आपदा के समय जब हिमाचल को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत थी तो वो कहीं नहीं दिखे। आपदाग्रस्त हिमाचल में कांग्रेस का एक-एक नेता राहत कार्य में जुटा हुआ था। लेकिन भाजपा का एक भी नेता वहां नहीं दिखा. यहां तक कि, जिस भूमि को वो देवभूमि कहते थे वहां के लोगों के लिए राहत का एक पैसा नहीं दिया. क्योंकि केंद्र सरकार देना नहीं चाह रही थी. हिमालय उनके लिए सिर्फ चुनाव के समय देवभूमि थी, जब आपदा के समय लोग संकट में थे तो वो देवभूमि नहीं रही।

यह भी पढ़ें -   कुछ सावधानियां बरती जाएं तो लू लगने से बचा जा सकता है

प्रियंका गांधी ने कहा कि कुछ लोग खुद को राम भक्त कहते हैं. लेकिन श्री राम ने क्या किया था, वह नहीं जानते। श्री राम को मर्यादा पुरुषोत्तम राम क्यों कहते हैं, यह उनसे पूछा जाना चाहिए। श्री राम ने अपने कुल परिवार की मर्यादाओं को बनाए रखा, उसे आगे बढ़ाया और उसकी रक्षा भी की। प्रियंका गांधी ने कहा कि, उनके परिवार पर भ्रष्टाचार और परिवारवादी होने की बात कही जाती है, जबकि सब जानते हैं कि उनके परिवार ने देश के लिए क्या कुर्बानी दी है।

उन्होंने कहा कि नवरात्र का समय चल रहा है और उनकी रामनगर में एक छोटे से मंदिर को लेकर श्रद्धा है। नवरात्र के मौके पर देशवासियों को खुद के लिए वोट करने और देश में एक अच्छी सरकार चुनने का फैसला ले लेना चाहिए।

इधर रुड़की दौरे के दौरान प्रियंका गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए अलग-अलग मुद्दों पर जनता का ध्यान खींचने की भी कोशिश की। लेकिन इसमें सबसे खास हिंदुत्व और राष्ट्रवाद पर उनका बयान रहा। अपने भाषण की शुरुआत उन्होंने मां गंगा को प्रणाम करते हुए हर-हर गंगे के नारे के साथ की। जबकि भाषण का समापन जय हिन्द के साथ किया।

प्रियंका गांधी ने कहा कि वह उस पवित्र भूमि में आई है, जहां से मां गंगा निकलती है। इसके बाद उन्होंने हर-हर गंगे का उद्घोष किया। प्रियंका गांधी ने कहा कि, उत्तराखंड आकर उन्हें बेहद खुशी होती है। यहां धार्मिक भावनाएं भी बढ़ जाती है और मातृभूमि के प्रति श्रद्धा भी जागती है. अपने भाषण के अंतिम समय में उन्होंने परिवारवाद का जिक्र करते हुए अपने परिवार की कुर्बानी को जाहिर किया और देश और राष्ट्रवाद के प्रति उनके परिवार की भावनाओं का संदेश लोगों को देने की कोशिश की।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440