लोहबान के नाम से प्रसिद्ध लोबान के औषधीय गुणों के बारे में जानें

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। लोबान वनस्पति से प्राप्त होने वाला एक खास पदार्थ है, जिसे लोहबान के नाम से भी जाना जाता है। इसका अंग्रेजी नाम गम बेन्जोइन है। यह लोबान नाम के पेड़ से एक चिपचिपे द्रव्य पदार्थ के रूप में निकलता है और सूखकर कठोर बन जाता है। लोबान का इस्तेमाल हजारों सालों से आयुर्वेदिक दवाएं बनाने के लिए और घरेलू नुस्खे के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। भारत में लोबान का इस्तेमाल हवन सामग्री में मिलाने के लिए भी किया जाता है। आजकल कई ऐसे हर्बल व एलोपैथिक प्रोडक्ट मार्केट में मिल जाते हैं, जिन्हें किसी न किसी स्वास्थ्य समस्या का इलाज करने के लिए बनाया गया है।

लोबान के फायदे
लोबान में कई प्रकार के ऐसे सक्रिय तत्व पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य को अलग-अलग प्रकार के लाभ प्रदान करते हैं। लोबान से प्राप्त होने वाले प्रमुख स्वास्थ्य लाभों में निम्न शामिल हैं –

सूजन व लालिमा को कम करने में मदद करे लोबान
आयुर्वेद के अनुसार लोबान में शक्तिशाली गुण होते हैं, जो त्वचा में होने वाली सूजन व लालिमा का इलाज करने में मदद करते हैं। लोबान पर किए गए कुछ अध्ययनों में भी यह पाया गया कि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं।

यह भी पढ़ें -   मौसम विभाग का अलर्ट: उत्तराखंड में 5 जिलों में तेज हवाओं के साथ हो सकती है मूसलाधार बारिश व ओलावृष्टि

रोगाणुओं को नष्ट करने में प्रभावी है लोबान
लोबान में कई ऐसे कंपाउंड पाए जाते हैं, जो शरीर में संक्रमण व अन्य कई प्रकार के रोग पैदा करने वाले सूक्ष्मजीवों के लिए एक विषाक्त वातावरण बना देता है और वे नष्ट हो जाते हैं।

लोबान से रखें लिवर को स्वस्थ
लोबान शरीर में एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है, जो लिवर की कोशिकाओं को हानिकारक फ्री रेडिकल्स से सुरक्षित रखता है। कुछ अध्ययनों में भी यह पाया गया कि लोबान लिवर के स्वास्थ्य को बनाए रखने में प्रभावी रूप से काम करता है।

कैंसर जैसे रोगों को दूर रखने में मदद करे लोबान
लोबान से प्राप्त होने वाले औषधीय तेल में खास तरह के तत्व मौजूद होते हैं, जो कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं, जिससे कैंसर के बढ़ने की गति धीमी हो जाती है। साथ ही एक अध्ययन में यह भी पाया गया कि लोबान कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट करने में मदद करता है।

हालांकि, लोबान से प्राप्त होने वाले उपरोक्त स्वास्थ्य लाभ कुछ अध्ययनों पर आधारित हैं और अन्य को प्राचीन नुस्खों से लिया गया है। हर व्यक्ति की शारीरिक तासीर के अनुसार लोबान का प्रभाव अलग-अलग हो सकता है।

यह भी पढ़ें -   यात्रा मार्गों पर तीर्थयात्रियों को उपलब्ध कराया जाए त्वरित उपचार: सतपाल महाराज

लोबान के नुकसान

लोबान का सेवन डॉक्टर की सलाह के अनुसार करना बेहद जरूरी है, क्योंकि इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में विषाक्त प्रभाव शुरू कर सकते हैं। ऐसे में निम्न लक्षण हो सकते हैं –

  • पेट में गंभीर दर्द होना
  • पेट में गैस बनना या पेट फूलना
  • जी मिचलाना या उल्टी
  • चक्कर आना
  • सीने में जलन या खट्टी डकार आना
  • दस्त लगना

वहीं कुछ लोगों को लोबान से एलर्जी हो सकती है, जिससे उन्हें त्वचा में जलन, सूजन व चकत्ते और सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण पैदा होने लगते हैं।

लोबान का उपयोग कैसे करें

लोबान का इस्तेमाल निम्न तरीके से किया जा सकता है –

  • इसके चूर्ण को अन्य औषधीय तेलों के साथ मिलाकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं
  • सूंघकर इसकी गंध लेना
  • गर्म पानी में डालकर इसकी भाप लेना
  • चूर्ण को गर्म पानी में मिलाकर सेवन करना

हालांकि, यदि आप लोबान का सेवन करने जा रहे हैं तो इससे पहले आपको डॉक्टर से बात करने की सलाह दी जाती है। साथ ही आपको किस प्रकार और कितनी मात्रा में लोबान का इस्तेमाल करना है, इस बारे में जानने के लिए भी किसी अच्छे हेल्थ एक्सपर्ट से संपर्क करें।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.