नींबू का रस और छिलका ही नहीं, इसके बीज भी होते हैं लाभदायक

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। नींबू का इस्तेमाल भारतीय भोजन में खूब किया जाता है। नींबू केवल खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि शरीर को सेहत और सौंदर्य से जुड़े लाभ भी पहुंचाता है। अमूमन लोग नींबू का रस और छिलका तो इस्घ्तेमाल कर लेते हैं, मगर इसके बीज फेंक देते हैं। नींबू के बीज से जुड़े कई मिथ भी प्रचलित हैं। जैसे- कुछ लोगों मानते हैं कि नींबू के बीज का सेवन शरीर के लिए नुकसानदायक होता है।
मगर ऐसा कुछ नहीं है। हां, अगर आप अधिक मात्रा में नींबू के बीज का सेवन करते हैं तो हो सकता है कि आपको कोई परेशानी हो जाए, जो कि किसी भी वस्तु के अधिक सेवन करने पर हो सकती है। मगर 1 या 2 बीज आप नींबू के रस और पानी के साथ निगल जाएं तो इससे आपका शरीर डिटॉक्सफाई हो जाता है।
नींबू के बीज के लाभ यहीं खत्म नहीं होते हैं। इन्हें आप कई तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं और इनका फायदा उठा सकते हैं। चलिए हम आपको नींबू के बीज के कुछ अद्भुत फायदों के बारे में बताते हैं-
दर्द में राहत पहुंचाता है-
नींबू के बीज में सैलिसिलिक एसिड होता है। यह दर्द में राहत पहुंचाने वाली दवा एस्प्रिन के प्रमुख कॉम्पोनेंट्स में से एक होता है। अगर आपके शरीर में कहीं भी दर्द है तो नींबू के बीज आपको उसमें फायदा पहुंचा सकते हैं। बेस्ट बात तो यह है कि आप नींबू के बीज का पेस्ट तैयार कर दर्द वाले स्थान पर लगा सकते हैं। इससे भी दर्द में राहत मिल जाती है।
थ्रेडवार्म की समस्या को करता है कम
थ्रेडवार्म एक आम समस्या है। हालांकि, यह किसी को भी हो सकती है मगर अधिकतर यह बच्चों में पाई जाती है। आपको बता दें कि थ्रेडवार्म धागे के समान दिखने वाले परजीवी होते हैं। यह मुख्यतः कोलोन और रेक्टल एरिया को संक्रमित करते हैं। इससे यूरिन इंफेक्घ्शन होने की भी संभावनाएं होती हैं। इस तकलीफ से राहत पाने के लिए आप मुट्ठी भर नींबू के बीज को क्रश करके पानी में उबाल लें। इस पानी से आप रेक्टल एरिया को साफ करें। आप चाहें तो इस पानी का सेवन भी कर सकते हैं क्योंकि इसमें डिटॉक्सीफाइंग प्रॉपर्टीज होती हैं।
त्वचा के लिए फायदेमंद
त्वचा के लिए नींबू का रस, छिलका और बीज तीनों ही फायदेमंद होते हैं। नींबू के बीज में त्वचा को एक्सफोलिएट (त्वचा को एक्सफोलिएट का सही तरीका जानें) करने की क्षमता होती है। साथ ही नींबू के रस की तरह नींबू के बीज में भी विटामिन-सी की अच्छी मात्रा मौजूद होती है। इसलिए आप इसका इस्तेमाल त्वचा को स्क्रब करने में कर सकते हैं। नींबू के बीज को क्रश करके आप शहद में मिक्स करें। इस तरह आपका होममेड फेस स्क्रब तैयार हो जाएगा। आप इसका इस्तेमाल बॉडी स्क्रब के तौर पर भी कर सकते हैं।
आपको बाता दें कि नींबू के बीज में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज भी होती हैं। बाजार में आपको नींबू के बीज का तेल आसानी से मिल जाएगा। इतना ही नहीं, आप घर पर भी नींबू के बीज का तेल तैयार कर सकते हैं। ब्यूटी एक्सपर्ट पूनम चुग कहती हैं, अगर आपको मुंहासों की समस्या है तो नींबू के बीज का तेल आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है।
नेल फंगस का घरेलू उपचार
अगर आप नेल इंफेक्शन की समस्या से जूझ रहे हैं तो नींबू के बीज का पेस्ट लगा कर देखें। इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा। बेहतर रिजल्ट्स के लिए आप इस पेस्ट में 2 बूंदें टी-ट्री एसेंशियल ऑयल की भी मिक्स कर सकते हैं।
एंटीबैक्टीरियल स्प्रे तैयार करें
आप नींबू के बीज का प्रयोग एंटीबैक्टीरियल स्प्रे तैयार करने में भी कर सकते हैं। इसके लिए आप नींबू के बीज को इकट्ठा करें। लगभग 1 कटोरी नींबू के बीज को 1 लीटर पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो उसे ठंडा करें और स्प्रे बॉटल में भर लें। इस पानी का इस्तेमाल आप त्वचा पर कर सकती हैं। खासतौर पर मच्छरों के काटने पर जलन और खुजली होने पर आप इस एंटीबैक्टीरियल स्प्रे का इस्तेमाल करेंगी तो बहुत राहत मिलेगी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *