हल्द्वानी में पीएम मोदी की रैली बनी भाजपा के लिये गले की हड्डी : दीपक बल्यूटिया

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हल्द्वानी में रैली कराना भाजपा के लिए गले की हड्डी बन गया है। 16 दिसंबर की राहुल जी की उमड़े आपार जनसैलाब से घबराई भाजपा ने जहां मोदी जी की हल्द्वानी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में होने वाली 24 दिसंबर को स्थगित करना पड़ा।भाजपा रैली में भीड़ जुटाने के लिए उत्तर प्रदेश से लोग लाने में जुटी है लेकिन उत्तराखंड में पूरी तरह विफल भाजपा को रैली में भीड़ जुटने की चिंता सता रही है जिस वजह से गौला पार अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम की बजाय एम० बी० इण्टर कालेज के मैदान के छोटे मैदान में कर इज्जत बचाने में जुटी है। उनका कहना था कि भाजपा के एम० बी० इण्टर कालेज में रैली कराने से पूरे दिन जनता को फज़ीहत का सामना करना पढ़ेगा।

Ad

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता बल्यूटिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 4 दिसंबर को देहरादून में हुई रैली फ्लॉप साबित हुई थी। जबकि 16 दिसंबर को उसी मैदान पर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली में अपार जनसमूह उमड़ा। इससे भाजपा बुरी तरह सहम गई। उन्होंने कहा कि मोदी की दूसरी रैली हल्द्वानी के गौलापार स्थित स्टेडियम में 24 दिसंबर को होनी थी जिसे भाजपा ने टाल दिया। भाजपा को इस बात का डर सता रहा था कि स्टेडियम को भरने के लिए वहां भीड़ नहीं जुटा पाएंगे। इसलिए अब न केवल मोदी की रैली के लिए भाजपा ने 24 दिसंबर की तिथि को बढ़ाकर 30 दिसंबर कर दिया है, बल्कि स्टेडियम के स्थान पर एमबी इंटर कॉलेज के मैदान में रैली कराने का निर्णय लिया गया है। भाजपा अब इस मैदान में प्रधानमंत्री मोदी की रैली कराकर इतिश्री करने में जुटी है। रैली में भीड़ जुटाने के लिए भाजपा के बड़े-बड़े नेताओं को लक्ष्य दिया गया है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड में आप ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, जानिए कौन किस सीट से लड़ेगा चुनाव…

बल्यूटिया ने कहा कि भाजपा शासनकाल में पिछले 5 सालों में एक भी उल्लेखनीय विकास कार्य नहीं हुआ। महंगाई और बेरोजगारी चरम पर है। प्रदेश का युवा परेशान है। इस सरकार ने 5 साल में 3 मुख्यमंत्री बदलने के अलावा कोई बड़ा काम नहीं किया। यही वजह है कि आज प्रदेश की जनता भाजपा से विमुख होकर कांग्रेस के साथ खड़ी है। दीपक ने कहा कि जिस प्रकार प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत लगातार कार्यकर्ताओं और जनता के बीच बने हुए हैं उससे प्रदेशभर के कार्यकर्ताओं का मनोबल चरम पर है। 2022 के विधानसभा चुनाव में जनता भाजपा को इसका करारा जवाब देगी।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *