काविड कर्फ्यू के चलते आरटीओ में 25 हजार आवेदन लंबित, विगत 27 अप्रैल से लगी है आमजन के प्रवेश पर रोक

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। लर्निंग लाइसेंस का टेस्ट देने, वाहन ट्रांसफर कराने या वाहन फिटनेस कराने की उम्मीद लगाए बैठे आमजन को फिर झटका लग गया है। दरअसल, परिवहन विभाग फिर बंद पड़े काम शुरू करने की तैयारी कर रहा था, मगर सरकार की ओर से कोविड कर्फ्यू बढ़ाने की वजह से इस तैयारी पर ब्रेक लग गया है। आरटीओ आफिस में 22 अप्रैल से लाइसेंस बनाने व अन्य कामकाज का काम ठप है। लाइसेंस और अन्य कार्यों के करीब 25 हजार आवेदन लंबित हैं। परिवहन अधिकारियों को उम्मीद थी कि सरकार कोरोना कर्फ्यू में इस हफ्ते से राहत दे सकती है, लेकिन सरकार ने कर्फ्यू पंद्रह जून तक बढ़ा दिया है। हालांकि, सरकार ने कुछ व्यापारिक प्रतिष्ठानों को छूट जरूर दी है, लेकिन सीमित समय के लिए। आमजन को आवाजाही की छूट फिलहाल नहीं दी है और ऐसे में आरटीओ में कामकाज भी शुरू नहीं हो सकता। कामकाज को दोबारा शुरू करने के लिए आरटीओ दिनेश चंद्र पठोई ने एआरटीओ द्वारिका प्रसाद व आरआइ आलोक कुमार समेत परमिट और अन्य अनुभाग के अधिकारियों के संग चर्चा की। जिसमें अधिकारियों ने कहा कि जनता को जब तक आवाजाही की छूट नहीं मिले, तब तक आरटीओ में कार्य शुरू नहीं कराए जा सकते। पिछले साल कोरोना लाकडाउन के चलते लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस का काम पांच माह तक बंद रहा था। अनलाक के तहत पहले आरटीओ में हर कार्य के 20-20 आवेदन शुरू किए गए, जो बाद में बढ़ाकर 50 और फिर 100 कर दिए गए। गत अप्रैल में सभी कार्य सामान्य चल रहे थे लेकिन 22 अप्रैल को कोरोना के चलते पहले लाइसेंस सेक्शन बंद किया गया और 27 अप्रैल से आमजन के प्रवेश पर रोक लगा दी गई। इसके बाद से समस्त कार्य बंद थे, लेकिन दो हफ्ते पूर्व नए वाहनों के पंजीकरण व अस्थायी परमिट के कार्य शुरू किए गए। इस समय लाइसेंस का बैकलाग काफी बढ़ गया है व आमजन को उम्मीद थी कि कार्य शुरू हो जाएंगे पर मामला फिर लटक गया। आरटीओ पठोई ने बताया कि कर्फ्यू में राहत के बाद ही लर्निंग और परमानेंट लाइसेंस टेस्ट समेत, फिटनेस, परमिट, रजिस्ट्रेशन टैक्स आदि से जुड़े कार्य सीमित संख्या में खोले जाएंगे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.