21 4

100 रूपये का उघार वापस न मिलने पर दोस्त ने उतारा दोस्त को मौत के घाट

Ad Ad
खबर शेयर करें

पुलिस ने किया 24 घंटे में हत्या का खुलासा, एसएसपी ने दिया टीम को इनाम

समाचार सच, हल्द्वानी/रामनगर। रामनगर थाना क्षेत्र में बीते दिनों हुई हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके पास से मृतक का मोबाइल फोन, राशन कार्ड पर्स व हत्या में इस्तेमाल हुई टाई का टुकड़ा व साइकिल भी बरामद कर लिया। पुलिस टीम को 24 घंटे में खुलासा करने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने ईनाम के रूप में पांच हजार की राशि नगद देने की घोषणा की।

पुलिस के अनुसार किशन राम पुत्र स्व0 देवराम निवासी पुरानी बस्ती हनुमानगढी मालधन रामनगर ने कोतवाली रामनगर आकर तहरीर दी गयी कि उसके भांजे अर्जुन कुमार उर्फ राजू पुत्र शिवराम निवासी कुम्भ गडार मालधन रामनगर को अज्ञात व्यक्ति के द्वारा हत्या गयी है तहरीर के आधार पर कोतवाली रामनगर में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी थी।
हत्या की घटित घटना का तत्काल खुलासा करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भटट द्वारा अधीनस्थ अधिकारियों को अवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। दिशा निर्देशानुसार डॉ0 जगदीश चन्द्र एस0पी0 अपराध कानून व्यवस्था, हरबन्स सिंह एस0पी0 सिटी हल्द्वानी, बलजीत सिंह भाकुनी क्षेत्राधिकारी रामनगर के पर्यवेक्षण में अरूण कुमार सैनी प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रामनगर के नेतृत्व में तत्काल अभियुक्त की तलाश हेतु अलग अलग टीमें गठित कर, अभियुक्त की पतारसी सुरागरसी करने हेतु तमाम लोगों से पूछताछ कर घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए जिसमें पुलिस को सीसीटीवी कैमरे में मृतक के हत्या से पूर्व की फुटेज का अवलोकन करने पर मालधन नं0 4 के पैट्रोल पम्प के सीसीटीवी में मृतक के शव बरामदगी से पहले शुक्रवार सांय करीब 4.30 बजे मृतक उन्हीं कपड़ो में साइकिल से जाते हुए दिखायी दिया जिसके साथ एक अन्य व्यक्ति भी उसके साथ दूसरी साइकिल से उसके साथ जाता हुआ दिखायी दे रहा था। उक्त सीसीटीवी फुटेज में मृतक के साथ दिखायी दे रहे व्यक्ति की शिनाख्त व तलाश के प्रयास किये गये तो फुटेज के आधार पर मृतक के साथ जा रहे उस व्यक्ति की शिनाख्त अमन उर्फ मुल्ला पुत्र लक्ष्मण राम निवासी मानधन नं0 3 रामनगर जिला नैनीताल के रुप में हुई। इसकी सूचना तत्काल सभी टीमों को दी इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि अमन उर्फ मुल्ला के मालधन ढेला पुल पर काशीपुर की तरफ जाने की तैयारी में खड़ा है सूचना मिलते ही पुलिस टीम द्वारा तत्काल ढेला पुल पर दबिश देकर रविवार को उसे गिरफ्तार कर लिया।
पूछताछ में अभियुक्त अमन उर्फ मुल्ला ने बताया कि वह टैन्ट हाऊस की दुकानों पर दिहाड़ी मजदूरी का काम करता है, मृतक अर्जुन कुमार जो ननिहाल की तरफ से रिश्ते का नाना लगता था और वो भी उसके साथ टैन्ट हाउस में काम करता था इसलिए उससे जान पहचान थी। शुक्रवार को सांय 4.30 बजे वह अपने घर से डैम की तरफ साइकिल से जा रहा था तो गांधीनगर फिल्ड के पास मोहनलाल बुचड़ की दुकान पर उसे अर्जुन कुमार खड़ा दिखायी दिया वो बुचड़ की दुकान से मीट खरीद रहा था उसके पास गया तो उसके पास कच्ची शराब भी थी जिसपर उसने कहा कि क्या मुझे भी शराब पिलायेगा तो उसने हां कहा फिर बुच़ड़ की दुकान से 20 रुपये का सुअर का मीट (पेड़ा ) खरीदा तथा वहीं गोविन्दी देवी की दुकान से गिलास खरीदे चौराहे पर पहुंचकर पुलिया के पास खेत में बैठकर हम दोनों ने शराब पी, शराब पीने के बाद हम दोनों अपनी अपनी साइकिलों से पैट्रोल पम्पे के सामने से होते हुए अर्जुन कुमार के टैंट मालिक की दुकान पर पहुंचे और मकान मालिक पुष्कर के घर पर अर्जुन ने अपनी साइकिल खड़ी कर दी, फिर हम दोनों मेरी साइकिल से ढेला पुल से होते हुए रामनगर रोड से होते हुए पीर बाबा की मजार के पास से कच्चे रास्ते पर गये तथा नदी पार कर नदी किनारे से होते हुए हरीश लाला के पोपलर के खेत में पहुंचे और कुछ देर बैठ गये इसी दौरान उसने अर्जुन से कहा कि 10-12 दिन पहले उसने 100 उधार लिये थे वह वापिस दे जिसपर मुझे गन्दी- गन्दी गालियां देने लगा तो मैने उसे दो थप्पड़ मार दिये, जिससे वो जमीन पर गिर गया और मुझे फिर जोर जोर से गालियां देने लगा तो मुझे भी गुस्सा आ गया मैने दोनों हाथों से उसकी टाई को जोर लगाकर खींच दिया तो वो छपटाकर बेहोश हो गया। फिर मुझे लगा कि अगर अर्जुन बच गया तो पुलिस में जायेगा, इसलिए मैने उसकी टाई में गांठ लगाकर उसका गला घोंटकर उसे मार दिया। खींचतान में अर्जुन की टाई टूट गयी थी व उसकी कमीज भी फट गयी थी। जब मुझे यकीन हो गया कि अर्जुन मर गया तो मैने उसकी जेबों की तलाशी ली तो उसकी जेब से मुझे एक सफेद रंग का टूटा मोबाइल एक राशनकार्ड व उसका पर्स निकाला जिसमें 250 रुपये थे , मैने रुपये निकाल कर अपने पास रख लिये थे व उसका मोबाइल , राशनकार्ड व पर्स वही थोड़ी दूर झाडियों में फेंक दिया फिर मैं साइकिल साइकिल उठाकर अपने घर को चल दिया व रास्ते में एक जगह झाडियों में साइकिल छुपा दी और मैं पैदल अपने घर चला गया ।
सफलता प्राप्त करने वाली टीम में व0उ0नि0 प्रेम विश्वकर्मा, उ0नि0 कश्मीर सिंह, अनीस अहमद , भूपेन्द्र सिंह मेहता, राजेश जोशी, कानि0 दीपक सिंह, जयवीर सिंह, संजय कुमार , गगन भण्डारी , हेमन्त सिंह, राजवीर सिंह प्रभारी एस0ओ0जी0 व उनकी टीम शामिल थे।

Ad Ad Ad
Jai Sai Jewellers
AlShifa
यह भी पढ़ें -   क्रिकेटर ऋषभ पंत की सहायता करने वालो को किया सीएम धामी ने सम्मानित
BholaJewellers
ChamanJewellers
HarishBharadwaj
JankiTripathi
ParvatiKirola
SiddhartJewellers
KumaunAabhushan
OmkarJewellers
GandhiJewellers

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *