गाय को राष्ट्रमाता का सम्मान मिलने से लौटेगा देश में स्वर्णिम युग : गोपाल मणि महाराज

खबर शेयर करें

राष्ट्रमाता का दर्जा देने के लिए 7 नवम्बर को दिल्ली में एकत्रित होने का आवाहन

समाचार सच, हल्द्वानी। गो क्रांति अग्रदूत गोपाल मणि महाराज ने कहा कि जिस दिन गाय को राष्ट्रमाता का सम्मान मिल जाएगा, उस दिन देश का स्वर्णिम युग लौटकर आ जाएगा। अब सरकार को करोड़ों देश वासियों की भावनाओं का सम्मान करते हुए गो को संवैधानिक रूप से राष्ट्रमाता का दर्जा देना ही होगा।

गोपाल मणि महाराज यहां नवाबी रोड स्थित रूद्राक्ष बैंकट हाल में भारतीय गो क्रांति मंच की ओर आयोजित एक दिवसीय गो कथा में प्रवचन कर रहे थे। महाराज ने गाय की महिमा तथा उसके महत्व के बारे में बताया और उन्होंने सरकार से गाय को संवैधानिक रूप से राष्ट्रमाता का सम्मान देने की मांग की। उन्होंने कहा कि इस देश में जब राष्ट्रीय पशु, राष्ट्रीय पक्षी, राष्ट्रीय पुष्प हो सकते हैं तो राष्ट्रीय मां क्यों नहीं हो सकती। गोकथा अमृत है और अमृत पीकर ही देवताओं का देवत्व बचा है। उन्होंने एलान किया कि जब तक गाय को पूरे देश में सम्मान नहीं मिल जाता, तब तक गो राष्ट्रमाता प्रतिष्ठा महासंकल्प जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि गो माता को प्रतिष्ठा देने और राष्ट्रमाता का दर्जा देने के लिए सात नवंबर को जनता को दिल्ली में एकत्रित होना होगा।
इस मौके पर महाराज द्वारा गो चरित्र पर प्रकाश डाल सुंदर भजनों की प्रस्तुति दी। साथ ही कथा के दौरान गो माता के जयकारे से पूरा वातावरण गुंजायमान हो गया। कार्यक्रम शुरूआत पूर्व गणेश पूजन से की गयी। तद्पश्चात व्यास व पुस्तक पूजन किया गया। गो कथा उपरान्त प्रसाद वितरण किया।
गो पूजन में मुख्य रूप से मेयर डॉ. जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला, अध्यक्ष गीता पांडे, मंजू शर्मा, बसंती तिवारी, बीना सुयाल, मोतिमा नैनवाल, तारा डसीला, तुलसी जीना, दीपा रौतेला, राधा नैनवाल, चंदन बिष्ट, रीता बिष्ट, आचार्य महेश आदि यजमान रहे। कार्यक्रम का संचालन पुष्पा पाठक ने किया। कथा में भारी संख्या में भक्त श्रद्धालुओं मौजूद थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.