गर्मी में शरीर को कैसे रखें स्वस्थ, जानें

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। कोई भी व्यक्ति स्वस्थ तब रहता है जब उसके शरीर का टेंपरेचर नॉर्मल रहता है। लेकिन जैसे ही शरीर का तापमान सामान्य से ज्यादा या कम होता है, तो कई लक्षण दिखने लगते हैं और समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सामान्यतः शरीर का तापमान औसतन 97.8 डिग्री फॉरेन्हाइट से लेकर 99.0 डिग्री फॉरेन्हाइट के बीच माना जाता है। यानी बॉडी टेम्परेचर लगभग 37 डिग्री सेलिसियस होना चाहिए। बॉडी के टेम्परेचर को संतुलित रखना बहुत जरूरी है, इसका बढ़ना या घटना, शरीर के अंदर हो रही परेशानियों की ओर संकेत करते हैं। ऐसे में बार-बार अस्पताल का चक्कर लगाना सबके बस की बात नहीं होती है। इसलिए यहां हम शरीर के गर्मी को कम करने के लिए कुछ घरेलू उपायों के बारे में बात करेंगे। तो चलिए, जानते हैं, शरीर में गर्मी किसके कारण होती है, और इसके उपाय क्या हैं?
शरीर में गर्मी के कारण क्या हैं?

सामान्यतः शरीर का तापमान वातावरण पर निर्भर करता है। यदि वातावरण गर्म है तो यह जाहिर सी बात है कि शरीर गर्म होगा, लेकिन यदि आपका शरीर आवश्यकता से ज्यादा गर्म हो रहा है, तो इसका उपाय करना बहुत जरूरी है। क्या आप जानते हैं कि शरीर में गर्मी बढ़ने के लक्षण और कारण क्या हैं। बीमारियां, एक्सरसाइज, इत्यादि भी शरीर के गर्मी को बढ़ा सकती है। शरीर में गर्मी बढ़ने के कारण और शरीर में गर्मी के नुकसान निम्नलिखित है-

व्यायाम – भारी व्यायाम करना आपके शरीर में गर्मी का एक कारण है। यदि आप भारी व्यायाम करते हैं या ज्यादा चलते हैं तो शरीर में गर्मी बढ़ सकती है।
धूप – ज्यादा देर धूप में रहने से भी शरीर में पानी की कमी हो जाती है और आपको गर्मी महसूस होती है। इससे हीट स्ट्रोक जैसी समस्या होने का भी खतरा हो सकता है।
मौसम – गर्मी के मौसम में ज्यादा देर तक बाहर रहने से भी शरीर में गर्म का एहसास होता है और तापमान बढ़ जाता है। ज्यादा कपड़े पहनने से भी बॉडी टेम्परेचर में वृद्धी हो सकती है।
वायरस और बैक्टीरिया – शरीर में किसी भी तरह का संक्रमण आपके शरीर के तापमान को बढ़ा सकता है। बढ़ा हुआ बॉडी टेम्परेचर संक्रमण और बीमारियों से लड़ने में मदद करता हैं। जिसके कारण बुखार होता है।
हाई प्रोटीन – आहार में हाई प्रोटीन का सेवन करने से भी शरीर की गर्मी बढ़ सकती है। जैसे – मीट, नट्स, इत्यादि।
सूजन – यदि आपके शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन की समस्या होती है, तो यह भी शरीर में गर्मी बढ़ने का कारण हो सकता है।
कैफीन या शराब – कैफीन या शराब का सेवन भी आपके बॉडी टेम्परेचर को बढ़ा सकता है। आपको ऐसे खाद्य पदार्थों के अधिक सेवन से बचना चाहिए।
हाई ब्लड शुगर लेवल – डायबिटीज या ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से भी बॉडी टेम्परेचर में वृद्धी हो सकती है। इसलिए अपने शुगर लेवल को नियंत्रित रखें।
प्रिग्नेंसी – यदि आप प्रिग्नेंट हैं तो आपको हॉट फ्लैशेज जैसी परेशानी हो सकती है और आपके शरीर का तापमान बढ़ सकता है। ऐसा शरीर में हॉर्माेन का स्तर गिरने के कारण होता है।
स्ट्रेस – ज्यादा स्ट्रेस में रहने से भी शरीर का तापमान नॉर्मल से ज्यादा बढ़ सकता है। जो लोग ज्यादा चिंतित होते हैं उन्हें अक्सर ज्यादा पसीना आता है।

यह भी पढ़ें -   कमरे में मिला संदिग्ध परिस्थितियों में पंतनगर एयरपोर्ट कर्मचारी का शव, महिला की वेशभूषा धारण किए हुए था मृतक

शरीर में गर्मी दूर करने के उपाय

शरीर में गर्मी बढ़ने पर कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो सकती है, इसलिए शरीर के तापमान को सामान्य स्तर पर लाने के लिए कई तरह के उपाय किए जा सकते हैं, जो निम्नलीखित है-

विटामिन सी युक्त फल का सेवन करें –
शरीर की गर्मी को दूर करने के लिए विटामिन सी से भरपूर फल का सेवन कर सकते हैं। इसे आप शर्बत बनाकर भी पी सकते हैं। वैसे भी फल और हरी सब्जियों को गर्मियों में खाने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़ें -   वरिष्ठ नागरिक जनकल्याण समिति का अधिवेशन तथा चुनाव 3 जुलाई को, तैयारियां जोर-शोर से शुरू

ठंडे पानी का सेवन करें –
ठंडे पानी का सेवन करने से शरीर को ठंडक मिलती है। लेकिन एक बात और ध्यान रखें की फ्रीज से निकाला हुआ ठंडा पानी नहीं ब्लकी नॉर्मल ठंड़े पानी का सेवन करने की कोशिश करें। जैसे- घड़े का ठंडा पानी।

अपने डाइट में सत्तू को जोड़ें –
अपने शरीर की गर्मी को कम करने के लिए आप सत्तू के शरबत का भी सेवन कर सकते हैं। सत्तू को ठंड़ा माना जाता है। खासकर गर्मियों के दिनों में सत्तू और निंबू को ठंडे पानी में मिलाकर पिया जाता है, जिससे शरीर को ठंडक मिलती है।

पैरों को ठंडे पानी में डालें –
यदि आप भी अपने शरीर की गर्मी से परेशान हैं तो अपने पैरों को ठंडे पानी में डाल सकते हैं। इससे आपको आराम और ठंडक दोनों मिलती है।

पुदीना –
प्राकृतिक रूप से पुदीने को काफी ठंडा माना जाता है। इसलिए गर्मियों के दिनों में आप पुदीने का शरबत या पुदीने की चटनी का सेवन कर सकते हैं। इससे शरीर का टेम्परेचर भी कम रहता है और गर्मियों में लू लगने का डर नहीं होता है।

नारियल पानी –
विटामिंस और मिनरल्स के लिए नारियल पानी बेस्ट पेय पदार्थ होता है। इसमें मौजूद इलेक्ट्रोलाइट आपके शरीर को हीट होने से बचाते हैं और आपको हाइड्रेटेड रखने में मदद करते हैं। इसका सेवन आपके शरीर के तापमान को संतुलित कर सकता है।

नोट- आपके शरीर में किसी भी तरह के संक्रमण से आपके शरीर का तापमान ज्यादा हो सकता है। इसके अलावा धूप, गर्म मौसम, इत्यादि भी इसके लिए जिम्मेदार कारक होते हैं। आप ठंडक पहुंचाने वाले फल का सेवन कर या उपर बताए गए तरीकों को अपनाकर भी अपने शरीर की गर्मी को कम कर सकते हैं। इसलिए संतुलित आहार का सेवन कर आप अपने को बीमारियों से बचा सकते हैं और अस्पताल के खर्चों से बच सकते हैं।

Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440