मानसून 2024: बारिश वाली बीमारियां बन सकती हैं जानलेवा, बदलते मौसम में इस तरह करें बचाव

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। चिलचिलाती गर्मी से राहत देने वाली बरसात अब होने लगी है। देश के कई हिस्सों में मानसून की दस्तक से मौसम सुहावना हो गया है। हालांकि, ये बारिश राहत के साथ ही कई बीमारियां अपने साथ लेकर आती है। इस मौसम में कई खतरनाक बीमारियों का खतरा बढ़ने लगता है। कुछ बीमारियां तो ऐसी भी हैं, जिनका समय पर इलाज न हो तो जान भी जा सकता है ऐसे में आइए जानते हैं इन बीमारियों के लक्षण कैसे पहचाने और इनसे बचने के क्या उपाय हैं…

बारिश में क्यों बढ़ती हैं बीमारियां
हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, बरसात के मौसम में वातावरण में नमी आ जाती है इस वजह से बैक्टीरिया और वायरस को पनपने के लिए अनुकूल मौसम मिल जाता है, जो कई बीमारियों का कारण बनते हैं। वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन का जोखिम इस मौसम में ज्यादा रहता है, जिसकी चपेट में बच्चे और बुजुर्ग सबसे जल्दी आते हैं।

यह भी पढ़ें -   रामनगर में लोपिंग न करने डीएम ने जताई नाराजगी, विद्युत विभाग के अधिकारियों की लगी फटकार, आपदा प्रभावित क्षेत्रों का किया निरीक्षण

बारिश में इन बीमारियों का खतरा ज्यादा
डॉक्टरों के मुताबिक, बारिश के मौसम में डायरिया, टाइफाइड, वायरल फीवर, डेंगू और मलेरिया का खतरा सबसे ज्यादा और तेजी से फैलता है। टाइफाइड और डायरिया खराब खाने-पीने से होता है। इसमें उल्टी-दस्त की समस्या भी रहती है। कुछ बैक्टीरिया वायरल फीवर का कारण भी बन जाते हैं। इस मौसम में फ्लू का खतरा भी ज्यादा रहता है।

डेंगू-मलेरिया सबसे खतरनाक
बरसात में सबसे ज्यादा खतरा डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों का रहता है। दोनों ही मच्छरों के काटने से फैलती हैं। इस मौसम में पानी जमा हो जाता है, जिनमें मच्छर पैदा होते हैं। इनके काटने से ही डेंगू और मलेरिया बढ़ता है। अगर इनका समय पर इलाज न कराया जाए तो जानलेवा भी हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें -   श्रावण मास 2024: शिव जी के प्रिय माह सावन में होंगे 5 सोमवार, 29 दिन का रहेगा ये महीना, 19 अगस्त

बारिश के मौसम में सबसे ज्यादा किन लोगों को खतरा
हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, मानसून आते ही जिन बीमारियों का खतरा बढ़ता है, उनकी चपेट में सबसे जल्दी और तेजी से कमजोर इम्यूनिटी वाले लोग आते हैं। ऐसे लोगों पर वायरस और बैक्टीरिया आसानी से अटैक कर सकते हैं, इसलिए इन्हें सावधानी रखनी चाहिए।

बारिश वाली बीमारियों के सामान्य लक्षण

  • तेज बुखार
  • सिरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • सांस लेने में समस्या
  • उल्टी, दस्त

बारिश वाली बीमारियों से कैसे बचें

  1. मच्छरों के पनपने से रोकें, घर के आसपास या छत पर पानी न जमा होने दें।
  2. खानपान का खास ख्याल रखें, बाहर का खाना छोड़ें।
  3. साफ और उबला पानी ही पिएं।
  4. साफ-सफाई को लेकर लापरवाही न करें।
  5. समय-समय पर हाथों को धोते रहें।
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440