आशा कार्यकर्ताओं की समस्याएं कांग्रेस सत्ता में आते ही होगी दूर : धीरेन्द प्रताप

Ad
खबर शेयर करें

आंगनबाड़ी-आशा कार्यकत्री सम्मान समारोह किया आयोजित

समाचार सच, देहरादून। उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष और कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता धीरेंद्र प्रताप ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आते ही सबसे पहले आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की मांगों को पूरा करेगी। वह शुक्रवार को कांग्रेसी महिला शाखा की राष्ट्रीय सचिव ज्योति रौतेला द्वारा धुमाकोट में आयोजित आंगनवाड़ी-आशा कार्यकत्री सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। यह सम्मान उन्हें कोरोना में अपनी जान की परवाह ना करते हुए जनता की सेवा के लिए दिया गया। जिसमें उन्हें एक सर्टिफिकेट और एक शॉल भेंट की गई।
उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की 18,000 प्रतिमाह मानदेय की माग बिल्कुल वाजिब है। उन्होंने कहा कि आशा कार्यकत्री भी जो न्यूनतम वेतन की मांग कर रहे हैं कांग्रेस उसका समर्थन करती है और समय आने पर जब कांग्रेस की सरकार आएगी कांग्रेस इन मांगों को तत्काल पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ही पहले गांव की महिलाओं को जोड़ने के लिए और क्षेत्र के विकास में सहयोग लेने के लिए आशा कार्यकत्री और आंगनवाड़ी कार्यकत्री के रूप में उनका सहयोग दिया।
धीरेंद्र प्रताप ने राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था पर निशाना बनाते हुए कहा कि सरकार ने कोरोना वैक्सीन बिल्कुल बंद कर दिया है। जिससे लोग जान पर खतरा बढ़ गया है और तीसरी लहर के बीच यदि लोगों की जान की रक्षा नही की गई तो कांग्रेस इसका कड़ा विरोध करेगी। इस सम्मान समारोह में ज्योति रौतेला वीरेंद्र प्रताप जंग बहादुर सिंह नेगी व पूर्व प्रमुख रश्मि पटवाल और मधु रावत वह जंग बहादुर सिंह नेगी द्वारा संयुक्त रुप से सम्मानित किया गया। समारोह को ज्योति रौतेला नैनीडांडा की पूर्व प्रमुख रश्मि पटवाल और मधु रावत कांग्रेस अध्यक्ष जंग बहादुर सिंह नेगी पूर्व अध्यक्ष गोपाल रावत समेत अनेक नेताओं ने संबोधित किया। ज्योंति रौतेला ने अपने संबोधन में महिला शक्ति को विश्वास दिलाया क्यों उनके अधिकारों की पूरी लड़ाई लड़ी जाएगी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *