चल रहा है बुरा समय और किस्मत नहीं दे रही है साथ तो अपनाये ये उपाय

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। वक्त कभी भी एक समान नहीं रहता है, तभी तो किसी का समय अच्छा चलता है तो किसी का बुरा। मगर इसके नकारात्मक प्रभाव से बचने और भाग्य को मजबूत करने के लिए हल्दी की माला का प्रयोग बहुत कारगर साबित होता है। ये न सिर्फ आपको परेशानियों से बचाएगा, बल्कि इसे पहनने पर मान-सम्मान भी मिलता है।। इसे धारण करने के लिए गुरुवार का दिन सबसे ज्यादा शुभ होता है।

  1. हल्दी की माला का हिंदू शास्त्रों में बहुत महत्व है। ये रोगों को दूर करने से लेकर मुसीबतों से छुटकारा दिलाने में कारगर है। इसका प्रयोग कई देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिए भी किया जाता है।
  2. चूंकि हल्दी भगवान विष्णु को बहुत प्रिय है, इसलिए उन्हें साबुत हल्दी की गांठों की माला चढ़ाने से लाभ होता है। इससे धन संबंधित समस्याएं दूर होती हैं।
  3. पंडित रवि दुबे के अनुसार जिन लोगों को मानसिक परेशानी रहती है या उनका स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है, उन्हें गुरुवार के दिन हल्दी की गांठ की माला धारण करनी चाहिए। इसे पहनने से पहले विष्णु जी के किसी मंत्र से माला को सिद्ध जरूर करें।
  4. अगर आप कई कोशिशों के बावजूद अपने कार्य में सफल नहीं हो पा रहे हैं तो गुरुवार के दिन गले या हाथ में हल्दी की गांठ की माला पहनें। इसे धारण करने से पहले इसमें गंगाजल छिड़कें और विष्णु जी चरणों में रखें। ऐसा करने से माला शुद्ध हो जाएगी। इससे आपके काम में आ रही बाधाएं दूर होंगी।
  5. जिनकी कुंडली में गुरू नीच स्थान में बैठा है उन्हें भी हल्घ्दी माला का प्रयोग करना चाहिए। इससे उनका गुरू ग्रह मजबूत होता है। इससे उन्हें भाग्य का साथ मिलेगा।
  6. 6. जिन लोगों की शादी में दिक्कतें आ रही हैं उन्हें भी गुरुवार को हल्दी की गांठ की माला पहननी चाहिए। ध्यान रहे कि इसे धारण करने के बाद रोजान धूप-दीप जरूर दिखाएं। अगर विष्णु जी का कोई सिद्ध मंत्र भी पढ़ा जाए तो दोगुना लाभ होगा।
  7. मां बगुलामुखी के पूजन में हल्दी की गांठ की माला का प्रयोग बहुत असरदार साबित होता है। इससे देवी मां के मंत्र का जाप करने से सिद्धि प्राप्त होती है।
  8. अगर किसी को बुरे सपने दिखते है तो उन्हें अपनी तकिया के नीचे रात को सोते समय हल्दी की गांठ की माला रख लेनी चाहिए। अब अगले दिन सुबह इसे गंगाजल से शुद्ध करके रख लेना चाहिए। इससे नकारात्मकता दूर होगी।
  9. नवग्रह शांति के लिए हल्दी की गांठ की माला को कच्चे दूध् में डुबोकर शुद्ध कर लें। अब इसे नवग्रह यंत्र पर चढ़ाएं। इससे ग्रहों के नकारात्मक असर से बचाव होगा।
  10. हल्दी की गांठ की माला से गणेश भगवान के मंत्र का जाप करने से संकट टल जाते हैं। साथ ही बुद्धि का भी विकास होता है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.