उपचार के दौरान उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत

खबर शेयर करें

समाचार सच, नई दिल्ली (एजेंसी)। उन्नाव में आग के हवाले की गई दुष्कर्म पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई। करीब 90 फीसदी झुलस चुकी पीड़िता को गुरुवार को एअरबस से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल लाया गया था। अस्पताल की ओर से बताया गया कि शुक्रवार (6 दिसंबर) को रात 11:40 बजे पीड़िता ने आखिरी सांस ली। पीड़िता को शुक्रवार रात को 11:10 बजे कार्डियक अरेस्ट आया, जिसके बाद डॉक्टरों की टीम उसे संभालने में जुट गए, लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी। पीड़िता ने शुक्रवार सुबह में डॉक्टर से पूछा था कि क्या मैं बच जाऊंगी?’ उसने अपने भाई से कहा था कि अगर उसकी मौत हो जाती है तो दोषियों को नहीं छोड़ना।

बता दें बिहार थाने में पीड़िता की तहरीर पर आरोपीयों शिवम त्रिवेदी व शुभम के खिलाफ 4 मार्च 2019 को खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था, वहीं घटनास्थल लालगंज कोतवाली होने पर 5 मार्च 2019 को एक मुकदमा दर्ज किया गया। पूरे मामले की विवेचना लालगंज पुलिस कर रही है। जिसमें पुलिस ने एक आरोपी शिवम को जेल भेज था। मुख्य आरोपी शिवम पांच दिन पहले ही 30 नवंबर को हाइकोर्ट से जमानत पर जेल से बाहर आया है। पीड़िता ने अपने बयान में आरोप लगाया है कि शिवम अपने चार साथियों शुभम, हरिशंकर, रामकिशोर, उमेश बाजपेई के साथ जिन्दा जलाने की घटना को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़ें -   आज सीबीएसई बोर्ड के 10वीं और 12वीं के परिणाम नहीं होंगे घोषित, जानिए रिजल्ट पर बड़ा अपडेट

इधर पुलिस ने शुक्रवार 6 दिसंबर को उक्त मामले में गिरफ्तार पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया। सुनवाई के बाद कोर्ट ने सभी पांचों आरोपियों को 14 दिन की रिमांड पर जेल भेज दिया है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.