बीपीएल शिक्षा प्रयास समिति के बच्चों ने मोमबत्ती जलाकर किया श्रद्धासुमन अर्पित

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना के हेलीकॉप्टर दुर्घटना में देश के सीडीएस बिपिन रावत एवं उनकी पत्नी सहित 11 सैन्य अधिकारियों की असमय मृत्यु पर शोक व्यक्त करते हुए बीपीएल शिक्षा प्रयास समिति के पदाधिकारी व स्कूली बच्चों ने कालाढूंगी चौराहा में उन्हें मोमबत्ती जलाकर श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान देने की प्रार्थना की।

Ad

समिति के अध्यक्षा श्रीमती पार्वती किरौला ने कहा कि सीडीएस बिपिन रावत एक जिम्मेदार सैन्य प्रमुख, कर्तव्यपरायण अधिकारी थे। अपनी काबिलियत और लगातार मेहनत की बदौलत आर्मी चीफ के बाद देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनने का गौरव हासिल किया। सीडीएस बिपिन रावत तीनों सेनाओं के प्रमुख थे और देश की आन-बान-शान थे। सीडीएस बिपिन रावत के कार्यकाल में सेना का मनोबल हर समय सातवें आसमान पर रहा। देश के युवाओं को ऐसे सैन्य अधिकारियों के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए, जिन्होंने देश की सैन्य स्थिति को मजबूती करने में निर्णायक भूमिका निभायी। राष्ट्रहित में उनके योगदान को सदैव याद किया जाएगा। हैलीकॉप्टर दुर्घटना में उनकी मौत से पूरे देश में शोक की लहर है। सीडीएस रावत ने देश के साथ ही उत्तराखंड का मान भी बढ़ाया था। उनके नेतृत्व में भारतीय सेना की ताकत बढ़ी, देश सेवा में किए गए उनके योगदान को देश सदैव स्मरण रखेगा।

यह भी पढ़ें -   कनस्तर बजा कर आवाज़ उठायी नहीं चलेगी नफरत वाली राजनीति, रोज़गार की बात करो

श्रद्धांजलि देने वालों में श्रद्धांजलि सभा में भाजपा वरिष्ठ नेता हरीश पाण्डे, गायत्री किरौला, कनक चंद, मीनाक्षी साह, नीरू भल्ला, प्रीति बिष्ट, रूपा, पिंकी भट्ट, सीमा बिष्ट, योगिता समेत समिति के स्कूली बच्चे मौजूद रहे।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *