वीर जवानों के परिवारों को मदद करना शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि: राज्यपाल

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। कारगिल विजय दिवस के अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने लाल गेट, सब एरिया कैंट स्थित शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर वीर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कारगिल विजय के दौरान अपना सर्वाेच्च बलिदान देने वाले शूरवीरों को नमन करते हुए उनके बलिदान को याद किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए गौरव की बात है कि हमारे वीर जवानों ने विषम भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद भी अपने शौर्य व पराक्रम से दुश्मनों को परास्त किया। कारगिल में हमारे 527 जांबाज सैनिकों ने अपने प्राणों की आहुति देकर देश के लिए अपना सर्वाेच्च बलिदान दिया जिसमें देवभूमि उत्तराखण्ड के 75 जवान शामिल थे। राज्यपाल ने कहा कि वे शहीद हमारे देश के हीरो व आइकन हैं। उनके राष्ट्र प्रेम की भावना से प्रेरित होकर हमारे अन्य सैनिक भी देश की सुरक्षा में लगे हुए हैं।

यह भी पढ़ें -   लम्बे समय से सट्टे के कारोबार में लिप्त सटोरिया आया पुलिस की गिरफ्त में

राज्यपाल ने कहा कि सेना में रहते हुए उन्होंने कारगिल क्षेत्र को बड़े करीब से देखा है जहाँ पर सैनिकों का जोश व जज्बा होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस विजय में देवभूमि उत्तराखण्ड के सैनिकों का बहुत बड़ा योगदान रहा। इसमें से 37 सैनिक वीरता पुरस्कार पदक विजेता रहे हैं। उन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान अपनी बहादुरी व शौर्य का परचम लहराया। राज्यपाल ने कहा कि सभी वीर जवानों के परिवारों व वीरांगनाओं को हर सम्भव मदद करना शहीदों की सच्ची श्रद्धांजलि होगी। कारगिल के वीर जवानों की वीर गाथा हम सभी को राष्ट्र प्रेम व देश भक्ति की प्रेरणा देती है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना दुनिया की सर्वश्रेष्ठ सेना है, जो किसी भी मुकाबले के लिए सक्षम है। इस अवसर पर उत्तराखण्ड सब एरिया के जीओसी मेजर जनरल संजीव खत्री, उत्तराखण्ड सब एरिया के अधिकारीगण, सभी ब्रिगेड के स्टेशन कमांडर व भूतपूर्व सैनिक उपस्थित रहे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.