कटहल के बीज से बढ़ती है इम्यूनिटी, सेहत के लिए और भी हैं कई फायदे

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने कुछ दिनों पहले दुनिया में पेड़ पर होने वाले सबसे बड़े फल के रूप में पहचाने जाने वाले कटहल के बीजों की फोटो शेयर करते हुए बताया था कि कैसे कटहल के बीज इम्यूनिटी बूस्ट करने में मदद कर सकते हैँ। वैसे बहुत कम लोग जानते हैं कि कटहल सिर्फ इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए ही खाना फायदेमंद नहीं है, बल्कि इसके और भी कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं। पहले कटहल सिर्फ हमारे देश में ही मिलता था, लेकिन अब दुनिया कई हिस्सों में किसान कटहल उगा रहे हैं।
कटहल के बीज में थियामिन और राइबोफ्लेविन की अधिकता होती है जो खाने को एनर्जी (ऊर्जा) में बदलने में सहायक होता है और आंख, स्किन और बालों को हेल्दी रखने में कारगर होता है। साथ ही इनमें जिंक, आयरन, कैल्शियम, कॉपर, पोटेशियम और मैग्नीशियम भी कम मात्रा में मौजूद होते हैं। इसके अलावा कटहल के बीज में माइक्रोब्स जैसे बैक्टीरिया से भी लड़ने की क्षमता होती है। कटहल के बीज को पारंपरिक चिकित्सा में बेहतर पाचन के लिए भी इस्तेमाल किया जाता रहा है।
कटहल के बीजों के बारे में रुजुता ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा है, इसे सब्जी या करी के रूप में पकाया जा सकता है और चावल के साथ खाया जा सकता है। भाप में उबाला जा सकता है या थोड़े से नमक और काली मिर्च के साथ भूना जा सकता है और यह एक स्वादिष्ट नाश्ता बन जाता है। जिंक, विटामिन और फाइबर जैसे खनिजों से भरपूर, कटहल आपके आहार में विविधता लाता है, आपके टिशू (ऊतकों) को ताकत देता हैं और एक नीरस जीवन में स्वाद लाता है।
कटहल में पोटैशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। कटहल में कई फलों से ज्यादा विटामिन्स और मिनरल्स है। इसमें विटामिन सी की अधिकता तो है ही, साथ ही उन चंद फलों में शामिल है जिसमें विटामिन बी का स्तर भी अधिक होता है। इसके साथ इसमें फोलेट, नियासिन, राइबोफ्लेविन, पोटेशियम और मैग्नीशियम भी होता है।
कटहल को पीला रंग देने वाला कैरोटिनायड विटामिन ए से भरपूर होता है। सभी एंटीआक्सिडेंट की तरह, कैरोटीनायड बॉडी के सेल्स को नुकसान से बचाते हैं और आपके शरीर को सही तरीके से काम करने में मदद करते हैं। कैंसर और हृदय रोग जैसी बीमारियों के साथ-साथ मोतियाबिंद जैसी आंखों की कई समस्याओं को रोकने में मदद कर सकते हैं।
कटहल के फायदे-
कटहल में रेशा बहुत अधिक मात्रा में होता है, इसलिए इसे खाने के बाद पेट भरा-भरा लगता है और ये कान्स्टिपेशन की समस्या से भी राहत देता है।
डायबिटीज़ के लिए-
शरीर दूसरे कई खाद्य पदार्थों की तुलना में कटहल को धीरे-धीरे पचाता है। इसका मतलब है कि जब आप दूसरे फल खाते हैं तो जितनी तेजी से आपका ब्लड शुगर बढ़ता है, कटहल खाने के बाद ऐसा नहीं होता। इसलिए कटहल डायबिटीज़ से जूझ रहे लोगों के लिए अच्छा फल माना गया है।
अल्सर से बचाव-
कटहल में मौजूद पोषक तत्व आंतों में अल्सर बनने से बचाव करते हैं। पोटैशियम की अधिकता वाली खाने की चीज़ें ब्लड प्रशर को नियंत्रित करने में सहायक होती हैं और कटहल में कैल्शियम की प्रचूरता होती है।
स्किन का रखें ख्याल-
विटामिन सी की अधिकता होने की वजह से कटहल को हेल्दी स्किन के लिए भी उपयोगी माना जाता है।
कैंसर से बचाव-
कटहल में मौजूद फाइटोन्यूट्रिएंट्स वो तत्व हैं जो शरीर में कैंसर के सेल बनने से रोकते हैं।
कब नहीं खाना चाहिए कटहल-
कटहल खाने में बहुत स्वादिष्ट लगता है, लेकिन ये पेट में जाकर फैलता है, इसलिए कटहल हमेशा कम मात्रा में खाना चाहिए। इससे गैस बनने की शिकायत भी होने लगती है।
कैसे खाएं कटहल-

जब कटहल कच्चा होता है तो इसे सब्जी बनाकर खा सकते हैं। कटहल से कोफ्ता भी बनता है और कई लोग इससे त्योहार पर कटलेट या पकौड़ी के रूप में भी सर्व करते हैं। जब कटहल पक जाता है तो इसके बीच के भाग, जिसे कोवा कहा जाता है, को फल के रूप में खाया जाता है।
कटहल के बीज भी हैं बड़े काम के-
अनपच के लिए-

कटहल के बीज का पाउडर अनपच ठीक करने के लिए बहुत उपयोगी है। इसे धूप मे सुखा कर पीस लें। अब तैयार पाउडर को स्टोर कर लें और अनपच होने पर इसे पानी के साथ खाएं। कटहल के ताजा बीज की सब्जी खाने से कॉन्स्टिपेशन से राहत मिलता है।
हेल्दी आंखें और बाल-
कटहल के बीज में विटामिन ए की प्रचुरता होती है और यही वजह है कि ये अच्छी नज़र के साथ-साथ हेल्दी बालों के लिए भी अच्छा माना जाता है। विटामिन ए न सिर्फ आंखों की रोशनी बरकरार रखता है, बल्कि ये नाइट ब्लाइंडनेस से बचने के लिए भी जरूरी है। इसी तरह बालों की मजबूती और टूटने से बचाने के लिए विटामिन ए का सेवन जरूरी होता है।
नहीं होने देता एनीमिया-
क्योंकि कटहल के बीज में आयरन भी होता है, इसके सेवन से शरीर में खून की कमी या हीमोग्लोबिन का स्तर कम होने जैसी समस्या से बचा जा सकता है।
रिंकल्स की रोकथाम और हेल्दी स्किन के लिए –
अपने प्रचुर पोषक तत्वों की वजह से कटहल के बीज को सेहत के साथ-साथ स्किन के लिए भी अच्छा माना गया है।
कटहल के बीज को दूध के साथ मिलकार पीस लें। इसमें शहद मिला लें। चेहरे पर लगाकर 10-15 तक सूखने दें और गुनगुने पानी से धो दें।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *