वास्तु शास्त्र: बार-बार घर की महिलाएं हो रही बीमार, तो इसके पीछे हो सकता है वास्तु दोष

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। शास्त्रों के मुताबिक महिलाओं का इस तरह बीमार रहने की वजह वास्तु दोष होते हैं। चाहे महिला हो या पुरुष उनकी हर प्रकार की बीमारी में वास्तुदोष ही कारण बनता है। सिर्फ यही नहीं बल्कि घर में नकारात्मक ऊर्जा भी इसी की वजह से आती है। इसी के साथ चलिए आज हम आपको विस्तार से बताते हैं महिलाओं के स्वास्थ्य पर प्रभाव डालने वाले उन वास्तु दोषों के बारे में-

साउथ दिशा के दोष
साउथ दिशा में सर करके सोने वाली औरत का स्वास्थ सदा ढीला रहेगा। अगर किसी कारणवश आप सुस्ती या फिर बीमार महसूस कर रहीं है तो घर की उत्तर दिशा में जाकर कुछ देर बैठ जाएं। उत्तर दिशा सूर्य की दिशा मानी जाती है जो आपको पूरी तरह ऊर्जा से भर देगी।

टॉयलेट के वास्तु दोष
उत्तर पूर्व दिशा में टॉयलेट बनवाने से बचें, इस दिशा में बाथरुम या शौचालय बनाने से घर में बीमारी वाला माहौल बना रहता है। सबसे ज्यादा असर घर की औरत के स्वास्थय पर पड़ता है।

यह भी पढ़ें -   दून मेडिकल कालेज में नर्सिंग स्टाफ को बायोमैट्रिक हाजिरी न लगाना पड़ा महंगा, वेतन पर लगी रोक

भारी सामान
घर के बीचों-बीच किसी भी तरह का भारी सामान रखने से परहेज करें। जहां तक हो सके घर की इस दिशा को खाली रहने दें। अगर जरुरत लगे तो एक सुंदर सा पौधा या फिर आर्टीफिशल फ्लॉर पॉट रख सकते है।

रात का अंधेरा
घर के रंग भी औरतों की सेहत से काफी हद तक जुड़े होते हैं। घर को बीमारियों से दूर रखने के लिए रात को अंधेरा करके न सोएं। रात के वक्त बरामदे में हल्के नीले रंग का सॉफ्ट बल्ब जगाकर रखने से घरवालों का स्वास्थय सदा अच्छा रहता है।

गलत दिशा में पड़ा पानी
घर के दक्षिण-पश्चिम भाग किसी भी प्रकार का पत्थर से बना पानी का टैंक, बोरवेल या सैप्टिक टैंक उस घर में रहने वाली महिला सदस्य के लिए अशुभ माना जाता है। इस दिशा में पानी से जुड़ी कोई भी चीज रखने से घर की महिलाओं का स्वास्थय सदैव ढीला रहता है।

दक्षिण दिशा में बरामदा
घर के दक्षिण दिशा में बरामदे का होना घर की स्त्रियों को सदा रोगी बनाकर रखता है। जिस वजह से कमाया हुआ धन दवा-दवाईयों में ही खत्म होता रहता है। परिवार में आर्थिक कष्ट भी सदा बना रहता है।

यह भी पढ़ें -   Uttarakhand Crime: पति की पत्नी से हैवानियत, जबरन बनाए अप्राकृतिक संबंध, गर्भपात कराने का भी आरोप

वास्तु दोष दूर करने के उपाय
तुलसी का पौधा

तुलसी का पौधा घर में सुंदरता के साथ-साथ घर के सदस्यों को अच्छी सेहत भी प्रदान करता है। पौधा रखने के लिए घर की उत्तर दिशा सबसे बेस्ट मानी जाती है। यदि घर की मालकिन रोजाना सुबह उठकर तुलसी को पानी डालकर इसकी पूजा करती है तो इसका फल उसे अच्छी सेहत के रुप में मिलता है।

घर की दहलीज में न करें भोजन
स्त्रियों को घर की दहलीज पर बैठकर भोजन नहीं करना चाहिए नहीं तो घर में दलिद्रता पैदा होगी। आपके साथ-साथ बच्चे भी बीमार रहने लगेंगे।

साफ-सुथरी रसोई
महिलाएं भोजन बनाने के बाद तवा, कढ़ाई अन्य बर्तन चूल्हे या गैस पर न रखें रहनें दें। खासतौर पर रात को खाने के बाद रसोई अच्छी तरह साफ करने के बाद ही किचन से बाहर निकलें। इससे भी घरवालों की सेहत सदा अच्छी बनी रहती है। रसोई घर में झूठे बर्तन नहीं रखने चाहिए। बर्तनों को रात में ही धोकर रख दें।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440