हल्द्वानी तहसीलदार की कार्यप्रणाली से कांग्रेसी नाराज, नारेबाजी करते हुए किया तहसील का घेराव

Ad
खबर शेयर करें

कांग्रेसियों का आरोप: स्व0 इंदिरा की तरफ से स्वीकृत करवायी आर्थिक सहायता के चेक बांट रहे भाजपा नेता

समाचार सच, हल्द्वानी। तहसीलदार हल्द्वानी की कार्यप्रणाली से नाराज कांग्रेसियों ने सोमवार को तहसील का घेराव किया और नारेबाजी करते हुए तहसीलदार की बर्खास्त करने की मांग की हैं। इस दौरान कांग्रेसियों का आरोप था कि पूर्व नेता प्रतिपक्ष स्व0 इंदिरा हृदयेश की तरफ से गरीब जरूरतमंद लोगों के लिये मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता आवंटित करवायी थी। उन स्वीकृत आर्थिक सहायता के चैकों का वितरण राजनैतिक दबाव के चलते हल्द्वानी तहसीलदार के द्वारा नियम विरूद्ध जाकर भाजपा के एक नेता द्वारा किया जा रहा है।
घेराव के दौरान कांग्रेसी नेता सुमित हृदयेश ने कहना था कि उनकी माता स्व. डॉ. इंदिरा हृदयेश जी ने ताउम्र गरीब मजदूर मजबूर वर्ग की सेवा के लिए कार्य किया था और इस दुनिया से विदा होने से पहले भी उन्होंने दर्जनों गरीब जरूरतमंद लोगों के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता आवंटित करवायी थी। जिसके चेक डॉ. इंदिरा हृदयेश जी के स्वर्गवासी होने के उपरांत तहसीलदार हल्द्वानी के पास पहुँचे और उक्त चैकों को तहसीलदार हल्द्वानी द्वारा नियम विरुद्ध जाकर भाजपा के एक नेता को मुहैया करवाने का मामला संज्ञान आया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में उन्होंने तहसीलदार से फ़ोन पर वार्ता कर उक्त मामले पर अपनी नाराजगी व्यक्त की तो तहसीलदार द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय से फ़ोन आने की बात कही हैं। इस बावत जब मुख्यमंत्री से फ़ोन पर वार्ता की तो मुख्यमंत्री ने बताया कि उनके कार्यालय द्वारा इस संदर्भ में तहसीलदार हल्द्वानी को कोई कॉल नहीं किया हुई है। उनका कहना था कि समस्त कांग्रेसजनों को तहसीलदार की संदिग्ध कार्यप्रणाली से क्षुब्ध होकर ही इस आंदोलन को करने को मजबूर होना पड़ा है।
जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल कहना था कि शासकीय कार्यों में पार्टी विशेष का हस्तक्षेप होना सरासर गलत है और कांग्रेस इसका पुरजोर विरोध करती है। कांग्रेस प्रदेश महासचिव एडवोकेट गोविंद बिष्ट ने कहा कि एक जिम्मेदार राजपत्रित अधिकारी का इस प्रकार के कार्याें में शामिल होना गैरजिम्मेदाराना कृत्य है जिसकी हम सब घोर भर्त्सना करते है। महिला कांग्रेस महानगर अध्यक्ष पार्षद नीमा भट्ट ने इस पूरे प्रकरण को महिला शक्ति का अपमान बताया और चेतावनी दी की अगर स्वर्गीय डॉ. इंदिरा हृदयेश जी के कार्याे का कोई श्रेय लेना चाहेगा तो महिला कांग्रेस उग्र आंदोलन करेंगी।
घेराव के बीच आकर सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने पूरे प्रकरण की जानकारी ली। बाद में सिटी मजिस्ट्रेट द्वारा नियमानुसार कार्यवाही कर उक्त चैकों को प्रसाशन स्तर से वितरित करने के आश्वासन पर प्रदर्शन समाप्त हुआ।
प्रदर्शन कार्यक्रम में सतीश नैनवाल, सुमित हृदयेश, एडवोकेट गोविंद बिष्ट, हरेंद्र बोरा, नीमा भट्ट, मंजू तिवारी, संध्या डालाकोटी, जया कर्नाटक, शाहजहां बेगम, राजो टंडन, शोभा बिष्ट, पुष्पा सम्मल, भागीरथी बिष्ट, विद्या देवी, मंजू पांडे, भगवती जोशी, शशि वर्मा, डॉ. मयंक भट्ट, सौरभ भट्ट, जगमोहन बगड़वाल, सुहैल सिद्दीकी, गोविंद बगड़वाल, हेम दुर्गापाल, गोविंद सिंह बिष्ट, अब्दुल राजीक, नरेश अग्रवाल, बहादुर बिष्ट, महेश राणा, जाकिर हुसैन, गुरप्रीत सिंह प्रिंस, संजय रावत, त्रिलोक सिंह कठायत, मोहन बिष्ट, हेमन्त साहू, मोना शर्मा, रवि जोशी, राजेन्द्र जीना, हरीश जोशी, विक्की छिमवाल, विशाल भारती, रवि सागर, रिजवान हुसैन, प्रदीप बिष्ट, सी. एम. पांडे, बृजेश बिष्ट, देवेंद्र नेगी, रविन्द्र रावत, इशरत अली, हसनैन खतिबि, अबु तसलीम, दिग्विजय सिंह चौहान, अमन गुप्ता, विशाल भोजक, अल्का आर्या, सीमा भटनागर, भगवती बिष्ट, वरुण प्रताप भाकुनी, हिमांशु जोशी, भाष्कर काण्डपाल, खलील वारसी, शहीद अख्तर, आसिफ अली, मलय बिष्ट, अमित रावत, शुभम जोशी, डेविड, तौफीक अहमद, अरबाज खान, मोकिन सैफी, रमेश नगरकोटी, प्रकाश पांडे, राजू रावत, सतनाम सिंह, गिरीश पांडे, प्रदीप नेगी, दीपा खत्री, रामु भारती, दीप पाठक, रोहित प्रकाश, डैनी मलिक, मुकुल बलुटिया, विनोद दानी, नेत्र बल्लभ जोशी, सरफराज अहमद, नवीन पांडे, मोहम्मद गुफरान, संदीप भैसोड़ा, हर्षित जोशी, मोनिका सती, पुष्पा तिवाड़ी, योगेश सुयाल, मनोज भट्ट, योगेश कबड़वाल, दीपक जोशी, सालिम सिद्दीकी, मनोज शर्मा, महेश काण्डपाल, सैयद रिहान, सलमान सिद्दीकी, जावेद वारसी, सुशील डुंगरकोटी, नब्बू पांडे, मधु सांगूड़ी, विमला सांगूड़ी, योगेंद्र बिष्ट, जीवन बिष्ट, चंदन भाकुनी, बब्लू बिष्ट, आशीष कुरायी, सुमित कुमार, बाबू गुजराल, हर्षित खन्ना, लाल सिंह पवार, लक्ष्मीकांत (लच्छू), जीवन तिवाड़ी, महेशानंद सहित सैकड़ो कांग्रेसजन उपस्थित मौजूद रहे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *