Adhi Nind

क्या आधी रात अचानक खुल जाती है आपकी नींद, जानें कारण

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। आधी रात में अचानक नींद खुल जाने से ज्यादा बुरा कुछ नहीं होता है। हम आपको यहां 5 ऐसे कारण बता रहे हैं, जिससे आपकी नींद बीच रात में खराब होती है। अगर इन समस्याओं पर आप काम कर लें तो चौन की नींद पा सकते हैं।आधी रात में अचानक नींद खुल जाने से ज्यादा बुरा कुछ नहीं होता है। वहीं जब आप फिर से सोने की कोशिश करते हैं और नींद नहीं आती, तब ज्यादा चिड़चिड़ाहट होती है। सिर्फ आप ही इस परेशनी से नहीं जूझ रहे हैं। आधी रात में नींद का खुलना एक आम समस्या है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है और इसे कैसे रोका जा सकत है? हम आपको यहां 5 ऐसे कारण बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी नींद में खलल पड़ता हैः
आपका कमरा
जिस कमरे में आप सो रहे हैं, वह भी आपकी नींद में खलल डाल सकता है। अगर कमरा बहुत गर्म या ठंडा है, तब भी आपकी नींद खुल सकती है। दरवाजे की आवाज या कहीं से आ रही लाइट रात में आसानी से आपकी नींद में खलल डाल सकती है। रात की अच्छी नींद के लिए, आपका कमरा डार्क होना चहिए, कमरे का तापमान ठीक होना चाहिए और शांति होनी चाहिए।
ऐंग्जाइटी
अगर आप पूरी तरह से रिलैक्स नहीं है, तब भी आप रात में शांति से सो नहीं सकते हैं। तेज हार्टबीट या बुरा सपना आपको परेशान कर सकता है। कुछ लोगों को रात में पैनिक अटैक भी आते हैं, इससे भी आप गहरी नींद से जाग जाते हैं।
जानें, क्यों खाना खाने के बाद आती है नींद
ओवरऐक्टिव थायरॉइड ग्लैंड
थायरॉइड ग्लैंड कई अंगों के कार्य को नियंत्रित करता है। जब यह ग्लैंड ओवरऐक्टिव होता है, तब यह थायरॉक्सिन ज्यादा बनाता है, जिससे हमारे शरीर की कई प्रणालियों पर प्रभाव डालता है। नींद में परेशानी, हार्टरेट का बढ़ना, ज्यादा पसीना आना, घबराहट, कंपकंपी इसके लक्षण हैं। अगर ऐसा होता है, तब अपने डॉक्टर से बात करें।
रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम
इस सिंड्रोम से पीड़ित लोग अपने पैरों में असहज संवेदनाओं का अनुभव करते हैं और अपने पैरों को लगातार हिलाते रहते हैं। यह लक्षण शाम के समय या रात में जब आप सो रहे होते हैं, तब ज्यादा दिखाई देते हैं। कभी-कभी आयरन की कमी इसका कारण होते हैं। अपनी मांसपेशियों को शांत करने के लिए गर्म पानी से नहाना, जैसे घरेलू उपचार आपको अच्छी नींद लेने में मदद कर सकते हैं।
स्लीप ऐप्निया
यह एक ऐसी बीमार है जो डायबीटीज, हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर के साथ ही याददाश्त कम होने जैसे रोगों का कारण बन सकती है। सोते समय सांस लेने के रास्ते में अवरोध के कारण यह परेशानी होती है। यह एक लाइफस्टाइल डिजीज है। कंटिन्युअस पॉज़िटिव एयरवे प्रेशर मशीन पहनकर सोने से नली बंद नहीं होती। हालांकि तीन से चार महीने तक इस्तेमाल के बाद ही इसका असर होता है।
सोने की रूटीन में करें बदलाव
इन सब कारणों को जानने के बाद अपनी रात को सोने की रूटीन में छोटे-छोटे बदलाव करने की कोशिश करें। बिस्तर पर जाने से कम से कम दो घंटे पहले खाएं। बिस्तर पर जाने से पहले टीवी या मोबाइल फोन न देखें। अगर इन सबसे से मदद नहीं मिल रही है, तब इस समस्या से राहत पाने के लिए अपने डॉक्टर की मदद लें।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.